महापंचायत- 8 हजार लोगों ने एक साथ उठाई शराब के खिलाफ आवाज

समाज सुधार समिति द्वारा चलाई जा रही शराबबंदी की मुहिम के तहत रविवार को तोर तिलावली गांव के सिद्ध स्थान मनीराम गिरी मंदिर पर महापंचायत का आयोजन किया गय

By: Gaurav Sen

Published: 11 Sep 2017, 02:56 PM IST

बागचीनी। समाज सुधार समिति द्वारा चलाई जा रही शराबबंदी की मुहिम के तहत रविवार को तोर तिलावली गांव के सिद्ध स्थान मनीराम गिरी मंदिर पर महापंचायत का आयोजन किया गया।

इस दौरान एक दर्जन के करीब गांवों के ग्रामीणों ने महापंचायत में हिस्सा लिया। इस दौरान चार गांवों में शराबबंदी पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाया गया और इसे लागू करने के लिए कमेटियों का भी गठन कर दिया गया। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में मौजूद ग्रामीणों ने एक साथ हाथ उठाकर शराब पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाने का मंदिर पर संकल्प लिया।


शराबबंदी के लिए रविवार को १६वीं महापंचायत का आयोजन तोर तिलावली में किया गया। इस अवसर पर पंचायत की अध्यक्षता पंडित रामभजन शर्मा ने की। अतिथि के रूप में समाज सुधार समिति के अध्यक्ष नारायण सिंह दद्दू, केदार सिंह, मप्र शिक्षक संघ के अध्यक्ष नरेश सिंह सिकरवार, परशुराम सिंह उदयभान सिंह एकता परिषद व रामबाबू सिंह मौजूद थे। इस दौरान मौजूद ग्रामीणों ने शराबबंदी पर चर्चा की, जिसमें चार गांवों जिनमें तोर, तिलावली, नीमकक्षा, तिलऊआ में शराबबंदी कर दी गई। जिसमें शराब पीने पर ५०० रुपए व बेचने पर ११०० रुपए का अर्थदण्ड रखा गया। इस अवसर पर नारायण सिंह दददू ने कहा कि हम पूरे क्षेत्र में भ्रमण कर शराबबंदी के लिए प्रयास कर रहे हैं। युवा जागरूक हों और शराब के सेवन से बचें। वहीं केदार सिंह ने कहा कि शराब व संस्कार एक साथ नहीं रह सकते। इसलिए युवा शराब को त्याग कर संस्कारों को अपनाएं। पंचायत को संबोधित करते हुए उदयभान ङ्क्षसह ने कहा कि युवा क्षेत्र में जागरूक हो रहे हैं। अभी तक 8५०० लोग शराबबंदी की मुहिम में पहुंचे हैं। जिसके सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। शिक्षक संघ के नरेश सिंह ने कहा कि शराब से समाज व परिवार विखंडित हो रहे हैं। युवाओ से अपील है कि शराबबंदी कर संभ्रांत समाज की स्थापना करें। वहीं परशुराम सिंह ने कहा कि शराबबंदी के इस पुण्य अभियान को आगे बढ़ाने के लिए युवा आगे आएं। महापंचायत में तोर, तिलावली, उत्तमपुरा, ताजपुर, सहजपुरा, मंजीतपुरा, गुर्जा, डिंडोखर, मोहनपुर, खिडौरा, सुखपुरा, पंचमपुरा, नीमकक्षा, कोल्हूडाडा गांव के ग्रामीण शामिल हुए, जिनमें परमानंद, शिवराज सिंह, दिनेश कुशवाह, पूर्व सरपंच रामजीलाल कुशवाह, श्याम सिंह, पहलवान सिंह, मर्राखन सिंह, राम सिंह व शैलू सहित सात सैकड़ा ग्रामीण मौजूद थे।

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned