धोखाधड़ी: अकाउंटेंट व कैशियर ने मिलकर खाते में किया हेर-फेर, 50 लाख का किया गबन

17 हजार की इंट्रियां गड़बड़ निकलने एवं मिलान न होने से धोखाधड़ी का शक हुआ....

By: Ashtha Awasthi

Published: 21 Jul 2021, 06:36 PM IST

ग्वालियर। शहर के गोले का मंदिर क्षेत्र निवासी एक युवती की प्राइवेट कंपनी में अकाउंटेंट व कैशियर ने मिलकर 50 लाख से ऊपर का गबन किया है। कंपनी की संचालक को इस बात का पता तब चला जब उसने कैशबुक चैक की तो उसमें लेखाजोखा गड़बड़ मिला। मामला मुरैना जिले की इंडस्ट्रियल एरिया बानमोर का है। कंपनी संचालक की शिकायत पर पुलिस ने अकाउंटेंट व कैशियर के खिलाफ धारा 420, 406, 409, 467, 468 और 471 के तहत एफआइआर दर्ज कर ली है।

शक्ति प्रोटीन्स प्रा. लि. औद्योगिक क्षेत्र बानमोर की संचालक अनमोल चौहान पुत्री शैलेन्द्र सिंह चौहान निवासी ए 42 कृष्णानगर गोले का मंदिर ने बानमोर पुलिस को लिखित में शिकायत करते हुए बताया कि उनकी कंपनी में पार्थ मौर्य निवासी ग्राम पवाया कैशियर के पद पर 16 वर्ष से कार्यरत है, इसी प्रकार धीरेन्द्र गोयल निवासी आनंद नगर बहोड़ापुर ग्वालियर भी 12 वर्ष से अकाउंटेंट के पद पर कार्यरत है।

जब दोनों से मार्च के महीने में कैशबुक व लेजर चैक करने को मांगी गई तो उसमें 17 हजार की इंट्रियां गड़बड़ निकलने एवं मिलान न होने से धोखाधड़ी का शक हुआ। तब दोनों को बुलाकर कहा गया कि तुम्हारी कैश बुक व लेजर बुक में गड़बड़ी निकल रही हैं, जबकि दिसंबर 2020 तक की इंट्रिया चैक की हैं।

दूसरे दिन कैश बुक देखने को मांगी तब कैश में कुछ इंट्रियां दिसंबर 2020 की व जनवरी 21 की पिछली तारीख में दर्ज मिलीं उक्त इंट्रियां कूटरचित तरीके से धोखाधड़ी की नियत से कैशियर व अकाउंटेंट ने पिछली तारीख में दर्ज की। जब दोनों को बुलाकर पूछताछ की तो दोनों कूटरचित कैश बुक तैयार करने एवं कंपनी का पैसा गबन की बात स्वीकार कर ली, साथ ही लिखित पाई जाएगी उस रकम को हम शीघ्र ही कंपनी में जमा करा देंगे। कैशियर ने डेढ़ लाख व अकाउंटेंट ने एक लाख रुपए की रकम जमा करा दी।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned