हैरान रह गए देखने वाले, थाने में बंद क्यों हुई गायें

हैरान रह गए देखने वाले, थाने में बंद क्यों हुई गायें

By: Gaurav Sen

Updated: 10 Mar 2019, 05:50 PM IST

दतिया/जिगना। सरकार ने हर पंचायत में गौशाला खोलने की घोषणा कर दी है लेकिन अभी 30 में से केवल पांच पर काम शुरू हो सका है। तमाम गांवों में गांव के लोग आवारा पशुओं को किसी भी सरकारी इमारत में बंद कर रहे हैं। ये हालत किसी एक गांव के नहीं बल्कि अधिकतर स्थानों पर पशुओं को भूखे-प्यासे मौत का शिकार होना पड़ रहा है। जिगना थाने की पुरानी इमारत भी इनदिनों इसी काम आ रही है। गोशाला न बन पाने के कारण गांव वालों ने जिगना थाने की पुरानी इमारत में ही मवेशियों को बंद कर दिया। हालात इतने बदतर हैं कि इस इमारत में कई बार तो सैकड़ों मवेशी भूसे की तरह ठूंस दिए जाते हैं।

गौरतलब है कि कांग्रेस सरकार ने वचन दिया था कि हर गांव में गौशालाएं बनाकर आवारा पशुओं को उनमें रखने की व्यवस्था की जाएगी लेकिन सभी गांवों में यह व्यवस्था नहीं हो सकी । हालात ये रहे कि जिले में स्वीकृत 30 में से केवल पांच गौशालाओं के निर्माण का काम शुरू हो सका है। इस बारे में जनपद सीईओ गिरिराज दुबे का कहना है कि कुछ गौशालाओं का काम शुरू हो गया है।

 

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned