बेरीकेटस और ट्रैफिक पुलिस हटी तो होने लगा यातायात नियमों का उल्लंघन

कंपू पर बेरीकेटस और ट्रैफिक कर्मी तैनात कर वनवे के नियमो ंका कराया था पालन

ग्वालियर। शहर की यातायात व्यवस्था के लिए पब्लिक भी काफी हद तक जिम्मेदार है। अगर पुलिस कर्मी तैनात है तो डर के कारण वह नियमों का पालन करने पर मजबूर हो जाते है, लेकिन जैसे ही पुलिसकर्मी हटा नियमों का तोडऩा उनकी शान बन जाता है। फिर चाहे दूपहिया वाहन पर तीन सवारी बैठाकर लेकर जा रहे हो या फिर वन वे के नियमों का उल्लंघन करना हो। एेसा ही कुछ आज कंपू पर नजर आ रहा है। जब तक वहां बेरीकेट्स और ट्रैफिककर्मी तैनात रहा वन वे नियमों का पालन होता रहा। लेकिन जेसे ही दोनों चीजे हट गई धड़ल्ले से नियमों को टूटना शुरू हो गया है। आलम यह है कि हर तरह के ट्रेफिक नियम टूट रहे है।
दृश्य: एक

बुधवार सुबह करीब १० बजे नया बाजार से कंपू की तरफ मुडने वाले तिराहे पर एक चार पहिया वाहन रॉग साइड़ में निकलता हुआ दिखा। तभी सामने से अचानक एक दुपहिया वाहन आ गया। यह तो गनीमत रही कि दोनों ने ब्रेक लगा लिए। नहीं तो बड़ा हादसा हो जाता। इस वक्त ने तो वहां बेरीकेट़्स लगे थे न हीं कोई यातायात कर्मी तैनात मिला।
दृश्य: दो

इसी तिराहे से करीब ३०० मीटर आगे चलते ही दूसरा तिराहा पड़ता है। यहां भी एक दुपहिया वाहन चालक रॉग साइड से तीन सवारी बैठाए हुए निकल गया। उसे यह भी डर नहीं था कि आगे पुलिस हो सकती है। उसका चालान हो सकता है। लेकिन एेसा लग रहा था कि उसे मालूम था कि अब इस तिराहे पर पुलिसकर्मी नहीं खड़ा है।
औपचारिकता कर भूल जाती है पुलिस

ट्रैफिक पुलिस भी औपचारिकता कराकर भूल जाती है। कुछ दिन तो यहां बेरीकेट्स और सुबह शाम ट्रैफिक कर्मी खड़ा कर नियमो ंका सख्ती से पालन हुआ। यहीं नहीं नियमो ंका उल्लंघन करने वालों की फटकार लगाने के साथ-साथ उनके चालान भी हुए। लेकिन कुछ दिन बाद औपचारिकता पूरी कर बेरीकेट्स भी हटा दिए ओर यातायातकर्मी भी नदारद हो गए। यहीं कारण है कि पुलिस के न होने से वाहन चालक धडल्ले से नियमो ंका उल्लंघन कर रहे है।
यह है निदान

-इन तिराहें पर रेल सिग्नल लगाए जाए ताकि वाहन चालक नियमों का पालन करें
-अगर रेड सिग्नल नहीं है तो परमाडेंट वहां ट्रैफिक पुलिसकर्मी खड़ा किया जाए। क्योंकि यहां वाहनों की सुबह से शाम तक आवाजाही होती है।

-अगर वाहन चालक नहीं माने तो उन पर सख्ती की जाए। उनका चालान किया जाए।
-कैमरे से ट्रैफिक नियमों का उल्लंघ करने वाले वाहन चालकों पर नजर रखी जाए। उनका ई चालान बनाकर घर भेजा जाए

Harpal chauhan
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned