scriptbefore judge verdict husband and wife said we want to live together | जज सुनाने वाले थे फैसला, तभी पति-पत्नी बोले-हम साथ रहना चाहते हैं, जानिए पूरा मामला | Patrika News

जज सुनाने वाले थे फैसला, तभी पति-पत्नी बोले-हम साथ रहना चाहते हैं, जानिए पूरा मामला

फैमिली कोर्ट में सामने आया अनोखा मामला...तलाक से पहले ही बदला पति-पत्नी का मन...थामा एक दूजे का हाथ

ग्वालियर

Published: March 11, 2022 07:20:53 pm

ग्वालियर. ग्वालियर फैमिली कोर्ट में एक अनोखा मामला सामने आया है। यहां तलाक की अर्जी लगाने वाले पति-पत्नी ने तलाक मिलने से ठीक ऐन वक्त पहले एक साथ रहने की बात कही और अपनी अर्जी वापस लेकर एक दूजे का हाथ पकड़कर जिंदगी की नई शुरुआत की। करीब दो साल पहले पति-पत्नी ने आपसी सहमति से तलाक की अर्जी लगाई थी और आखिरी गवाही के वक्त भी उन्होंने तलाक लेने की बात कही थी।

gwalior.jpg

ये है पूरा मामला
ग्वालियर की रहने वाली 25 वर्षीय नंदनी (बदला हुआ नाम) प्राइवेट हॉस्पिटल में नर्स है और उसकी शादी साल 2019 में रीवा के रहने वाले कृष्णकांत (बदला हुआ नाम) के साथ हुई थी। शादी के कुछ समय बाद तक तक दोनों के बीच सब ठीक रहा लेकिन बाद में उनके बीच विवाद होने लगा। विवाद होने के कारण करीब दो साल पहले नंदनी पति का घर छोड़कर वापस ग्वालियर लौट आई थी और अपने पिता के घर रह रही थी। इसके बाद साल 2021 में दोनों ने आपसी सहमति से ग्वालियर कुटुंब न्यायालय में तलाक की अर्जी लगाई थी। दोनों की काउंसलिंग की गई लेकिन दोनों साथ रहने के लिए तैयार नहीं थे जिसके कारण कोर्ट में तलाक का केस शुरु हुआ। आखिरी गवाही के दौरान भी उन्होंने तलाक लेने की बात कही थी। आखिरी गवाही होने के बाद कोर्ट को इनके तलाक पर डिक्री पारित करना थी। इसके लिए अगली तारीख पर दोनों को तलाक की डिक्री लेने के लिए बुलाया गया लेकिन जज तलाक की डिक्री दे पाते इससे पहले ही दोनों ने तलाक लेने से इंकार करते हुए साथ रहने की बात कही और अपना केस वापस ले लिया।

यह भी पढ़ें

दरिंदा लूटता रहा आबरू और वो बनाती रही वीडियो, विश्वासघात की हैरान कर देने वाली घटना



वकील दंपत्ति के कारण बदला मन
नंदनी और कृष्णकांत का मन बदलने में उनके दोनों के वकीलों का अहम योगदान रहा। दोनों की तरफ से केस लड़ने वाले वकील भी पति-पत्नी थे। नंदनी की तरफ से सीमा द्विवेदी और कृष्णकांत की तरफ से अरविंद द्विवेदी मामले की पैरवी कर रहे थे। आखिरी गवाही होने के बाद भी वकील दंपति ने दोनों को समझाना जारी रखा और उन्हें तलाक के बाद अलग अलग रहने के नुकसान बताए। ये बताया कि तलाक के बाद कैसे जीना कठिन हो जाता है जिसके बाद नंदनी और कृष्णकांत का मन बदल गया और उन्होंने तलाक लेने का अपना अपना फैसला वापस ले लिया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

हरियाणा: हरिद्वार में अस्थियां विसर्जित कर जयपुर लौट रहे 17 लोग हादसे के शिकार, पांच की मौत, 10 से ज्यादा घायलConstable Paper Leak: राजस्थान कांस्टेबल परीक्षा रद्द, आठ गिरफ्तार, 16 मई के पेपर पर भी लीक का सायाबॉर्डर पर चीन की नई चाल, अरुणाचल सीमा पर तेजी से बुनियादी ढांचा बढ़ा रहा चीनगेहूं के निर्यात पर बैन पर भारत के समर्थन में आया चीन, G7 देशों को दिया करारा जवाबLIC IPO : एलआईसी आईपीओ आज होगा सूचीबद्ध, इतने रुपए पर होगी लिस्टिंगमध्यप्रदेश: दो समुदायों में तनाव के बाद देर रात नीमच सिटी में धारा 144 लागू'हिन्दी' बॉक्स ऑफिस पर 'बादशाहत': दक्षिण की फिल्मों का धमाल बॉलीवुड के लिए कड़ी चुनौतीHoroscope Today 17 May 2022: आज इन राशि वालों के जीवन में होगा मंगल ही मंगल, आर्थिक कष्टों का निकलेगा हल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.