कांग्रेस ने बंद कराया ग्वालियर चंबल संभाग,चप्पे-चप्पे पर तैनात रही पुलिस

monu sahu | Publish: Sep, 10 2018 12:55:15 PM (IST) | Updated: Sep, 10 2018 01:33:54 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

कांग्रेस ने बंद कराया ग्वालियर चंबल संभाग,चप्पे-चप्पे पर तैनात रही पुलिस

ग्वालियर। पेट्रोल-डीजल के लगातार बढ़ते दामों के विरोध में कांग्रेस पार्टी ने सोमवार को ग्वालियर चंबल संभाग पूर्ण रूप से बंद रखा। सुबह से ही कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता सडक़ों पर उतरे और विरोध प्रदर्शन करते हुए लोगों की दुकानें बंद कराई। इस दौरान ग्वालियर चंबल संभाग में पुलिस चप्पे चप्पे पर तैनात रही। बंद की तैयारियों को लेकर रविवार को ही कांग्रेस ने बैठक कर शाम को अलग-अलग स्थानों से मशाल जुलूस भी निकाले।


यह भी पढ़ें : BJP राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा सहित कई दिग्गज नेताओं को दिखाए काले झंडे,फिर सामने आया सबसे बड़ा बयान

उधर बंद को देखते हुए जिला व पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था और आम जन को कोई परेशानी न हो, इसको देखते हुए समुचित इंतजाम किए हैं। सोमवार को होने वाले बंद के लिए दक्षिण विधानसभा क्षेत्र में बैठक हुई। बैठक में कार्यकर्ताओं ने तय किया कि शांतिपूर्वक बंद कराने सुबह 8 बजे से शाम 3 बजे तक अपने-अपने क्षेत्र में लोगों से अपील की।


यह भी पढ़ें : MP election 2018 : BJP राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने दिया ऐसा बयान,कांग्रेस में मची हलचल

चेंबर ने की निंदा
रविवार को चेंबर ऑफ कॉमर्स ने बैठक में निर्णय लिया कि वह एक व्यापारिक एवं औद्योगिक संस्था है। इसे किसी राजनीतिक पार्टी के साथ जोडऩे से बचना चाहिए लेकिन पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोतरी की निंदा करते हैं। चेंबर ने सोमवार को होने वाले बंद का समर्थन नहीं किया है।


यह भी पढ़ें : बड़ी खबर : अब ये होंगे अटल बिहारी वाजपेयी की करोड़ों रुपयों की संपत्ति के मालिक

अलग-अलग जगह से निकाले मशाल जुलूस
बंद से पूर्व कंाग्रेस ने अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा के नेतृत्व में किलागेट से हजीरा तक, सदर बाजार से मुरार बस स्टैंड तक और पाटनकर बाजार से दौलतगंज, महाराज बाड़ा,डीडवाना ओली में मशाल जुलूस निकाला।

यह भी पढ़ें : Breaking : एससी-एसटी एक्ट : भाजपा के चार दिग्गज सवर्ण नेताओं का इस्तीफा,हिली मोदी सरकार

पेट्रोल पंप पर नजर
बंद के लिए प्रशासन ने ६ सितंबर की तरह तैयारियां की हैं। प्रत्येक चौराहे पर पुलिस के जवान तैनात किए हैं। इसके साथ ही सभी एसडीएम, डिप्टी कलेक्टर, नायब तहसीलदार, तहसीलदार सहित अन्य अमले को अंचल में निगरानी रखने के निर्देश दिए गए हैं। इनके अलावा धार्मिक स्थल, पेट्रोल पंप सहित अन्य संवेदनशील जगहों पर विशेष निगरानी रखी जाएगी। किसी भी जगह जबरन बंद कराने या दबाव डालने की सूचना मिलते ही प्रशासन कार्रवाई करेगा।

 

कलेक्टर के निर्देश पर एडीएम संदीप केरकेट्टा ने सभी कार्यपालिक मजिस्ट्रेटों को सुबह 6 बजे से फील्ड में रहने के निर्देश दिए हैं। 2 अप्रैल को अजा समुदाय द्वारा बंद के दौरान की गई हिंसा, लूटपाट, आगजनी और छेड़छाड़ जैसी घटनाओं में असफल रहने के बाद से पुलिस-प्रशासन लगातार सतर्क है। इस अराजकता का पूर्वानुमान लगाने में असफल रहे अधिकारियों ने 10 अपै्रल को हुए बंद में चप्पे-चप्पे पर पुलिस जवान तैनात किए थे। यह बंद पूरी तरह से शांति पूर्ण रहा था। हाल ही ६ सितंबर को एट्रोसिटी एक्ट के विरोध में शहर बंद कराया गया, इसके लिए भी प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था चौकस रखने के लिए अधिकारियों को क्षेत्र में दौड़ाया था। आज होने वाले बंद के लिए भी 144 अधिकारियों को लॉ एंड ऑर्डर सही रखने की जिम्मेदारी दी गई है।

Petrol Diesel Price

सरकारी स्कूल खुले रहेंगे
बंद के आव्हान पर निजी स्कूल बंद रहेंगे। सीबीएससी प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन के पदाधिकारी राहुल श्रीवास्तव ने जानकारी देते हुए बताया कि स्कूलों में चल रहीं परीक्षाओं के दौरान होने वाला पेपर सोमवार को निरस्त किया गया है। वहीं सरकारी स्कूल खुले रहेंगे। प्रभारी डीईओ ममता चतुर्वेदी का कहना है कि हमारे पास स्कूल बंद को लेकर कोई निर्देश शासन से प्राप्त नहीं हुए है, इसलिए सरकारी स्कूल खुले रहेंगे।

Ad Block is Banned