संभागीय संगठन मंत्री से मिला विरोधी खेमे का प्रतिनिधि

- जिलाध्यक्ष का विरोध जल्द समाप्त होने की संभावना

ग्वालियर. जिलाध्यक्ष का विरोध कर रहे भाजपाई अब सुलह के मूड में नजर आ रहे हैं। रविवार को संभागीय संगठन मंत्री आशुतोष तिवारी से विरोधी खेमे का एक प्रतिनिधि मिला। बंद कमरे में करीब आधे घंटे दोनों के बीच चर्चा हुई। सूत्रों के मुताबिक मुलाकात में विरोध को समाप्त करने का रास्ता निकाल लिया गया है। संभागीय संगठन जल्द ही ग्वालियर आएंगे और विरोधी खेमे के सदस्यों उनसे मुलाकात करेंगे।


नवयुक्ति जिलाध्यक्ष के नाम पर पुन: विचार करने के लिए कुछ भाजपा नेता विरोध में आ गए थे और उन्होंने कहा था जब तक जिलाध्यक्ष नहीं बदला जाएगा तब तक वे उनके साथ काम नहीं करेंगे। शुक्रवार को संभागीय संगठन मंत्री ग्वालियर आने के बाद लगा था कि विवाद सुलझ जाएगा, लेकिन दो दिन तक कोई विरोधी उनसे बात करने नहीं आया। लेकिन रविवार को विरोधी खेमे से एक वरिष्ठ नेता ने संभागीय संगठन मंत्री से चर्चा की।


पार्टी के द्वार हमेशा खुले हैं, कोई भी अपनी बात रख सकता है। कुछ लोगों के मन आहत है, लेकिन हम उन्हें अपना ही मान रहे हैं। विरोधी खेमे के नेता रामेश्वर भदौरिया से मेरे व्यक्तिगत संबंध हैं, उनसे औपचारिक मुलाकात थी। कोविड-19 को लेकर भाजपा जो सेवा कार्य कर रही है उस संबंध में चर्चा की।
आशुतोष तिवारी, संभागीय संगठन मंत्री

Patrika
राहुल गंगवार Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned