9 वीं क्लास के बच्चे ने किया अपने दोस्त का कत्ल,वजह सुन आपके रौंगटे खड़े हो जाऐंगे

कटारे फार्म पर ९ वीं के छात्र की चाकुओं से गोदकर हत्या का राजफाश हो गया है। उसे हमउम्र जिगरी दोस्त ने सिर्फ ५०० रुपए

By: Gaurav Sen

Published: 26 Jan 2018, 12:33 PM IST

ग्वालियर। कटारे फार्म पर 9 वीं के छात्र की चाकुओं से गोदकर हत्या का राजफाश हो गया है। उसे हमउम्र जिगरी दोस्त ने सिर्फ 500 रुपए की उधारी वसूलने के लिए उसे मार डाला। दोस्त की जान लेने के लिए हत्यारा पूरी तैयारी से उसके ही साइकिल पर बैठकर आया था। कटारे फार्म में पहुंचकर उसने पीछे से दोस्त की गर्दन पर चाकू मारकर गिराया फिर उसके सीने में जान निकलने तक चाकू घोंपे। देर रात पुलिस उसे अंबाह से उठा लाई। नादान दिख रहे वहशी ने पकडे़ जाने पर पुलिस को चकमा देने की कोशिश की।


नारायण विहार कॉलोनी निवासी अभिषेक (१४) पुत्र रामशंकर माहौर की हत्या उसके हम उम्र जिगरी दोस्त सत्ते (परिवर्तित नाम) निवासी शिवकॉलोनी पिंटो पार्क ने की है। सत्ते नशे का आदी है। कुछ समय पहले तक नारायण विहार कॉलोनी में अभिषेक के पड़ोस में रहता था इसलिए दोनों में दोस्ती थी। करीब १५ दिन पहले अभिषेक ने सत्ते से ५०० रुपए उधार लिए थे। अभिषेक के पास दो साइकिल थीं, सत्ते से वादा किया था एक साइकिल दोस्त छोटू को बेचकर उधारी पटाएगा। तीन दिन पहले सत्ते ने उधारी का तकादा किया तो अभिषेक ने साइकिल बेचने से मना कर दिया। इसलिए सत्ते उससे बैर ठान गया। मंगलवार सुबह भी उसने अभिषेक को फोन कर तकादा किया, लेकिन अभिषेक पैसा देने को तैयार नहीं हुआ तो उसकी हत्या का खाका खींचा। सत्ते को पता था अभिषेक शाम को कोचिंग से अकेला घर लौटता है। इसलिए कोचिंग से छूटने के बाद प्लानिंग से उसे फोन कर पिंटो पार्क पर बुलाया। वहां से उसके साथ साइकिल पर बैठकर कटारे फार्म तक आया। मैदान में आकर उसे चाकू घोंप कर मार डाला।

मेला में दुबका, मामा के घर पहुंचा
हत्या करने के बाद आरोपी मेले में दुबका रहा फिर रेलवे स्टेशन पर रात काटी। सुबह भिंड जाने वाली ट्रेन में चढ़ गया। सोनी स्टेशन पर उतरा। वहां से बस पकड़ कर अंबाह में मामा के घर पहुंच गया। कपड़ों में लगे खून के बारे में मामा को बताया टमेटो कैचअप लग गया है। अभिषेक के मोबाइल की डिटेल से पुलिस अंबाह पहुंची।


संदेहियों को क्लीन चिट
अभिषेक के पिता रामशंकर ने बेटे की हत्या में सौंदा गांव भिण्ड निवासी गजेन्द्र, शैलेन्द्र, भानू, संतोष और रिंकू जादौन पर शक जाहिर किया था। रामशंकर का आरोप था कि इन लोगों से दुश्मनी ठनी है। बेटे की हत्या कर गजेन्द्र और परिजन ने बदला लिया है। अभिषेक की हत्या में उसका जिगरी दोस्त पकड़ा गया है तो पुलिस संदेहियों को क्लीन चिट देगी।


आरोपी सत्ते ने बताया मेले से 70 रु. में खरीदा चाकू

आ रोपी सत्ते ने पुलिस को बताया अभिषेक को जिंदा नहीं छोडेग़ा तय कर लिया था। पिछली साल मुरैना मेले से ७० रुपए में चाकू खरीदा था उसे लेकर पिंटो पार्क चौराहे पर पहुंचा। अभिषेक को बुलाकर उसके साथ चल दिया। साइकिल अभिषेक चला रहा था। वह पीछे बैठा था। कटारे फार्म में पहुंचे तो वहां सन्नाटा था। चाकू निकाल कर अभिषेक की गर्दन में घोंपा, वह घबरा कर साइकिल से कूदा। जान बचाने के लिए उसने मुकाबला करना चाहा लेकिन उसे बचने का मौका नहीं दिया। उसके सीने में दनादन चाकू घोंप दिए। अभिषेक ने वहीं तड़प कर दम तोड़ दिया, तो उसकी जेब से पर्स और मोबाइल निकाला। पर्स में करीब ३०० रुपए थे उन्हें पास में रखा। पर्स, मोबाइल और चाकू वहीं झाडि़यों में फेंककर भाग गया। गोला का मंदिर टीआई अजीत चौहान ने बताया हत्या में इस्तेमाल चाकू और अभिषेक के मोबाइल का कवर मिल गया है। आरोपी नशे का आदी है। उससे नशे का ट्यूब भी बरामद हुआ है। आशंका है नशे के सुरुर में अभिषेक की हत्या की है।


टीम को इनाम
छात्र की हत्या का राजफाश करने वाली टीम को पांच हजार रुपए का इनाम मिलेगा। छात्र का मोबाइल फोन तलाशा जा रहा है। आरोपी के बैकग्राउंड की जानकारी भी जुटाई जा रही है।
डॉ. आशीष, एसपी ग्वालियर

crimecrime murder
Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned