स्टैंड से रवाना होनी थी बसें, लेकिन अब भी फूलबाग मैदान से ले रहीं सवारियां

शहर में जाम की स्थिति से निजात दिलाने के लिए प्रशासन और नगर निगम अधिकारियों ने तय किया था कि शहर में सिर्फ बस स्टैंड से ही यात्री...

ग्वालियर. शहर में जाम की स्थिति से निजात दिलाने के लिए प्रशासन और नगर निगम अधिकारियों ने तय किया था कि शहर में सिर्फ बस स्टैंड से ही यात्री बसें चलेंगी। बड़ी बसें तो नाका चन्द्रबदनी बस स्टैंड पर पहुंचा दी गईं, लेकिन छोटी बसें अब भी शहर के बीचों-बीच से सवारियों को ढो रही हैं। टीकमगढ़ जाने वाली इन बसों ने फूलबाग मैदान को अघोषित बस स्टैंड बना लिया है। सुबह आने के बाद दिनभर ये बसें यहां खड़ी रहती हैं और उसके बाद दोपहर बाद यहां से रवाना हो जाती हैं।


यात्रियों से ज्यादा ढोती हैं सामान
मिनी बसों में जितने यात्री नहीं होते उससे ज्यादा तो यह बसें सामान लेकर जाती हैं। बस के अंदर और ऊपर सामान ही भरा रहता है। यात्री किराए के साथ ये बसें सामान का मनमान किराया वसूल करती हैं। ये बसें शहर के बीचों-बीच से निकलती है, लेकिन इसके खिलाफ अभी तक न तो आरटीओ और न ही नगर निगम में किसी तरह की कोई कार्रवाई की है।


दोपहर बाद लगने लगती है भीड़
शाम को ये मिनी बसें टीकमगढ़ के लिए रवाना होती है। दोपहर में यह बसें फूलबाग मैदान में आकर खड़ी हो जाती हैं। इसके बाद माल लोडिंग करने के लिए यहां ऑटो की भीड़ लग जाती है। जब तक ये बसें रवाना नहीं होती है तब तक भीड़ लगी रहती है।


- नियमानुसार बसों को बस स्टैंड से चलना चाहिए। यात्री के अलावा यदि सामान की भी ओवर लोडिंग की जा रही है तो कार्रवाई की जाएगी।
एमपीएस चौहान, आरटीओ, ग्वालियर


- आपके द्वारा यह मामला मेरे संज्ञान में लाया गया है। बस व वाहनों के खड़े होने से लगने वाले जाम को लेकर निर्देश दिए जाएंगे।
शिवम वर्मा, आयुक्त नगर निगम

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned