scriptCaught the business of cutting the car at the scrap shop | कबाडी की दुकान पर गाड़ी काटने का धंधा पकड़ा | Patrika News

कबाडी की दुकान पर गाड़ी काटने का धंधा पकड़ा

10 ट्रैक्टर बरामद, कबाडी को अरेस्ट किया
सरेंडर की अनुमित के बिना काटे जा रहे थे वाहन
पुलिस को शक चोरी के हो सकते वाहन

ग्वालियर

Published: March 31, 2022 12:58:00 am

ग्वालियर। कबाडी की दुकान पर बिना दस्तावेज के वाहनों को काटने का धंधा चलता मिला है। उसके यहां 10 ट्रैक्टर मिले हैं। उन्हें काटा जाना था। लेकिन किसी का मालिक और वाहन को काटने की रजामंदी की लिखापढी नहीं मिली है।
10 tractors recovered, Kabadi arrested
कबाडी की दुकान पर गाड़ी काटने का धंधा पकड़ा
कबाडी दलील दे रहा है ट्रैक्टर किसानों के है। उनमें ज्यादातर लिखा पढ़ी के झंझट में पडऩा नहीं चाहते हैं। इसलिए सीधे वाहन उसे थमा गए हैं। लेकिन पुलिस उसकी बातों पर भरोसा नहीं कर रही है। उसे शक है ट्रैक्टर चोरी या फाइनेंस कंपनी को धोखा देने के लिए काट जाने थे।
इसलिए कबाडी के साथ सभी ट्रैक्टर को उठाकर थाने ले आई। उससे कहा है वाहन मालिक को सामने बुलाकर उनसे हामी भरवाओ कि वाहन उन्होंने कटवाने के लिए दिए हैं।
फ्रूट मंडी, मोतीझील पर कबाडा कारोबारी का राजू उर्फ पर परसुराम खटीक के यहां वाहन काटने का धंधा पकड़ा गया है। राजू सिलइया पुरा मुरेना का रहने वाला है। यहां कबाडी का धंधा चला रहा है। इनपुट था राजू के यहां कारोबार दो नंबर में चल रहा है।
इस पर पुलिस कबाडी की दुकान पर पहुंच गई। वहां 10 ट्रैक्टर, एक ट्रॉली तो तमाम गाडिय़ों के पुर्जे मिले। जो वाहन सही सलामत खड़े थे राजू से उनके दस्तावेज मांगे। उन्हें कबाडी को किसने और क्यों बेचा है। उसकी वजह पूछी। पुलिस के सवाल का राजू सही जवाब नहीं दे पाया।
उसका कहना था ट्रैक्टर तो किसानों ने दिए है। सब बेकार है। इसलिए वाहन मालिक इन्हें बेच गए हैं। अब वह इन्हें काटकर पुर्जे और कबाडा बेचेगा। उसका यही धंधा है।
सरेंडर की अनुमित नहीं बता पाया कबाडी
पुलिस ने बताया वाहन मालिक गाडी को अपनी मर्जी से नहीं कटवा सकता। उसे वाहन को परिवहन विभाग में सरेंडर करना होता है। उसके बाद वाहन कंडम घोषित होता है। तब उसे नष्ट करवाने की इजाजत होती है। लेकिन कबाडी की दुकान पर खडे किसी भी ट्रैक्टर को उनके मालिक ने सरेंडर नहीं किया है। फिर राजू उन्हें किसकी अनुमति से काट रहा है। वह नहीं बता पाया।
चेसिस और इंजन नंबर गायब
राजू कबाडी की दुकान से बरामद ट्रैक्टर के चेसिस और इंजन नंबर भी घिसे गए थे। खुटका है बरामद गाडिय़ां चोरी की हो सकती हैं। सभी ट्रैक्टर और ट्रॉली को जप्त कर राजू को अरेस्ट किया है।
इन बिदुओं पर पड़ताल
- वाहन फाइनेंस के हो सकते हैं, उनकी किश्त चुकाने की बजाए वाहन मालिकों ने उन्हें कबाडी को बेचा है। वाहन कटवाने के बाद गाडी मालिक उन्हें चोरी होना बताकर फाइनेंस का पैसा देने से मुकर सकते हैं।
- वाहन चोरी के भी हो सकते हैं, कबाडी ने उन्हें चोरों से सस्ते दाम में खरीदा हो सकता है। काटे जाने के बाद पुलिस वाहन को बरामद नहीं कर सकती।
- कबाडी की दुकान से बरामद ट्रैक्टर का बीमा हो सकता है, आशंका है वाहन मालिकों ने बीमा की रकम हासिल करने के लिए वाहनों को कबाडी को थमाया है। उनका प्लान गाडिय़ों के कटने के बाद उन्हें चोरी होना बताकर बीमा की रकम हासिल करना हो सकता है।
इनका कहना है
कबाडी की दुकान से 10 ट्रैक्टर और ट्रॉली जप्त की है। कबाडी को भी राउंडअप किया है। उससे पूछा है गाडिय़ां उसके पास कहां से आई हैं। उन्हें काटने से पहले वाहन मालिकों ने वाहनों को परिवहन विभाग ने सरेंडर क्यों नहीं कराया। आशंका है वाहन चोरी के भी हो सकते हैं।
सुधीर सिंह कुशवाह पुरानी छावनी टीआई

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के दीपक केसरक का बड़ा बयान, कहा- हमें डिसक्वालीफिकेशन की दी जा रही हैं धमकीMaharashtra Politics Crisis: शिवसेना की कार्यकारिणी बैठक खत्म, जानें कौन-कौन से प्रस्ताव हुए पारितTeesta Setalvad detained: तीस्ता सीतलवाड़ को गुजरात ATS ने लिया हिरासत में, विदेशी फंडिंग पर होगी पूछताछकर्नाटक में पुजारियों ने मंदिर के नाम पर बनाई फर्जी वेबसाइट, ठगे 20 करोड़ रुपएAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैMaharashtra Political Crisis: वडोदरा में देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात- रिपोर्ट'अग्निपथ' के विरोध में तेलंगाना के सिकंदराबाद में ट्रेन में आग लगाने वालों की वायरल हो रही वीडियो, पुलिस ने पहचान कर किया गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.