चंबल में आई बाढ़ से 110 गांव घिरे, तोमर और शिवराज थोड़ी देर में करेंगे हवाई सर्वेक्षण

चंबल में आई बाढ़ से 110 गांव घिरे, तोमर और शिवराज थोड़ी देर में करेंगे हवाई सर्वेक्षण
चंबल में आई बाढ़ से 110 गांव घिरे, तोमर और शिवराज थोड़ी देर में करेंगे हवाई सर्वेक्षण

monu sahu | Updated: 18 Sep 2019, 01:59:55 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

भैंस को बचाने के प्रयास में डूबा युवक, हेलीकॉप्टर से विधायकों ने जिले का लिया जायजा

ग्वालियर। चंबल नदी में आई बाढ़ के पानी से तीसरे दिन भी राहत नहीं मिली। चंबल का जल स्तर 144.40 मीटर तक पहुंच जाने से 110 गांव बाढ़ से घिर गए हैं। राहत एवं बचाव कार्य जारी हैं। इस बीच मप्र शासन ने एक हेलीकॉप्टर भेजा जिसमें सवार होकर जिले के पांच विधायकों ने अधिकारियों के साथ दो चरणों में हवाई सर्वे किया। हालांकि इस दौरान कहीं कोई मदद या कार्ययोजना की जानकारी नहीं दी। वहीं मंगलवार को बाढ़ के पानी में डूबने से एक युवक की मौत भी हो गई। लोग जान बचाने के लिए स्वयं भी रेस्क्यू में लगे हुए है।

यह भी पढ़ें : बेकाबू चंबल नदी का पानी 85 गांव में घुसा, सेना ने संभाली कमान, ग्रामीणों में दहशत

बाढ़ के पानी में डूबने से एक की मौत
चंबल में बाढ़ की वजह से दो दिन में चार लोगों की मौत हो गई। मंगलवार को महुआ गांव का 26 वर्षीय युवक सूरज पुत्र भगवान सखवार 1 किमी दूर पानी में से अपनी भैंस लेकर निकल रहा था इसी दौरान पानी के भंवर में फंसने से डूबकर उसकी मौत हो गई। हालांकि ग्रामीणों को जैसे ही पता चला उन्होंने सूरज को निकाला और तुरंत सिविल अस्पताल अंबाह लेकर आए। लेकिन चिकित्सकों ने परीक्षण के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

यह भी पढ़ें : चंबल नदी में नाव डूबी, रस्सी के सहारे फंसे लोगों को निकाला बाहर

सूरज की 4 वर्ष पहले शादी हुई थी और 1 वर्ष का बेटा है। सूचना मिलने पर अंबाह विधायक कमलेश जाटव भी सिविल अस्पताल पहुंचे और मृतक का पोस्ट मार्टम कराया। परिजनों से बात करने के साथ ही विधायक ने अपनी ओर से 10 हजार रुपए की मदद दी । विधायक लोगों को चंबल के पानी से दूर रहने को भी कहा।

यह भी पढ़ें : मकान में हिस्सा दो या 50 लाख का इंतजाम करो वरना नहीं जीने देगा और चली गई जान


और ये भी
ग्राम पंचायत रायपुर खुर्द में 30-40 घर पानी में डूब गए। लोग घरों की छतों के ऊपर से बह रहे पानी में से ही नाव से लोगों को निकालकर ला रहे हैं। खाने-पीने का इंतजाम भी स्वयं ही कर रहे हैं। मंगलवार को एनडीआरएफ की टीम भी राहत एवं बचाव कार्य में सहयोग के लिए पहुंची। ग्राम खुर्द के शंभू सिंह तोमर ने कहा, पूरा गांव बाढ़ से घिरा है और शासन-प्रशासन की कोई मदद नहीं है। 1200 से अधिक की आबादी वाले गांव में 30-35 मकान पूरी तरह डूब चुके हैं और लोगों को अपने हाल पर छोड़ दिया गया है। ग्राम खुर्द के हरिओम भदौरिया ने कहा, तीन दिन से बाढ़ में घिरे हैं। खाने-पीने का सामान सब खराब हो गया है। लोग बहुत परेशान हैं।

यह भी पढ़ें : बाढ़ ने तोड़ा 49 वर्ष का रिकॉर्ड, 44 गांव जलमग्न, लोगों में दहशत

chambal Flood visit in shivraj singh chauhan today

तोमर और शिवराज आज करेंगे हवाई सर्वेक्षण
केंद्रीय मंत्री तोमर बुधवार को पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का एरियल सर्वे करेंगे। वे मुरैना के अलावा भिण्ड और श्योपुर के बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में भी जाएंगे। मीडिया प्रभारी नीरज भदौरिया के अनुसार दोनों नेता सुबह 11 बजे से श्योपुर पहुचेंगे। वहां से मुरैना में सबलगढ़ के बटेश्वर में दोपहर 12 बजे पहुंचेंगे। दोपहर 2 बजे भिण्ड जिले में बाढ़ के हालात का जायजा लेंगे। वे प्रदेश और केंद्र सरकार से बाढ़ प्रभावितों को हर संभव सहायता देने पर भी बात करेंगे।

मुश्किल में जिंदगियां, राहत की रस्सी से लगा रहे पार
पोरसा क्षेत्र में ग्राम पंचायत के भूपकापुरा में घिरे ग्रामीणों को सेना और स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू किया गया। यहां लोगों ने एक रस्सी नाव से बांधकर और बीच में ड्रमों से तैयार किए लाइफ सेविंग ढांचे पर खड़े होकर रेस्क्यू में मदद की। लोग जरूरी सामान लेकर गांव के बाहर निकाले।

केंद्रीय मंत्री पहुंचे बाढ़ प्रभावितों के बीच
केंद्रीय ग्रामीण विकास कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मंगलवार को अंबाह व दिमनी क्षेत्र के बाढ़ प्रभावित गांवों का दौरा किया। पूर्व मंत्री मुंशीलाल, पूर्व विधायक शिव मंगल सिंह तोमर, कलेक्टर प्रियंका दास व एसपी असित यादव भी उनके साथ रहे। तोमर ने रतन बसई, खाने सिंह पुरा, रामगढ़, बिचपरी, कुथियाना, नीवरी पुरा, बीलपुर, घेर, मदनपुरा, पिपरी पुरा में ग्रामीणों से मुलाकात की और इस संबंध में शासन से बात करने का आश्वासन दिया।

हेलीकॉप्टर से दो बार जिले का सर्वे
पहला चक्कर-सुमावली विधायक ऐदल सिंह कंषाना, दिमनी से गिर्राज डंडोतिया, अंबाह से कमलेश जाटव के साथ आयुक्त रेनू तिवारी, कलेक्टर प्रियंका दास ने दौरा किया। दूसरा चक्कर-सुमावली विधायक के अलावा जौरा विधायक बनवारीलाल शर्मा व सबलगढ़ विधायक बैजनाथ कुशवाह ने दौरा किया। नेताओं ने माना कि बाढ़ से नुकसान है और जल्द ही आकलन करवाकर शासन से मदद दिलाई जाएगी।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned