चार बहनों के बीच इकलौता भाई था जीतू, घर में पसरा मातम

चार बहनों के बीच इकलौता भाई था जीतू, घर में पसरा मातम

monu sahu | Updated: 08 Jul 2019, 05:47:13 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

सांक नदी में नहाने गया था 13 वर्षीय बालक

ग्वालियर। चंबल के मुरैना जिले के बानमोर से सटी सांक नदी में नहाने गया 13 वर्षीय बालक का शव 20 घंटे की मशक्कत के बाद निकाल लिया। वह अपने तीन अन्य साथियों के साथ पबाया गांव स्थिति साक नदी में नहाने गए एक 13 वर्षीय जीतू पुत्र उम्मेद सिंह कुशवाह निवासी हड्डी मिल दुर्गा कॉलोनी बानमोर शुक्रवार को नदी में डूब गया था। तभी से उसकी तलाश की जा रही थी।

इसे भी पढ़ें : कारोबारी के सिर पर कट्टे से वार कर 2.50 लाख लूटे, पुलिस में खलबली

सुबह करीब 20 घंटे की मशक्कत के बाद प्रभारी बानमौर थाना पियूष राठौर तथा जनता की मदद से मृतक की लाश को बाहर निकाला गया। किशोर का शव एक गड्ढे में फंसा था।शव का पोस्टमार्टम करा कर परिवार वालों को सुपुर्द कर दिया है। मृतक के पिता उम्मेद सिंह के परिवार में चार पुत्री तथा एक पुत्र था मृतक की माली हालत बहुत खराब है मृतक बानमौर कस्बे में कुल्फी का हाथ ठेला लगाकर अपने परिवार की जीविका चला रहा है।

इसे भी पढ़ें : शिक्षक ने छात्रा से रेप कर वीडियो बनाकर दूसरे को भेजा, और वो भी करने लगा शोषण

रो रोकर बुरा हाल
बेटे की मौत के बाद पिता उम्मेद सिंह ने बताया कि उसकी परिवार की माली हालत बहुत खराब है। वह बानमौर कस्बे में कुल्फी का हाथ ठेला लगाकर अपने परिवार की जीविका चला रहा है। उसकी चार पुत्री तथा एक पुत्र था। इकलौते पुत्र की मौत के बाद वह और उसकी पत्नी बेसुध है। वहीं भाई की मौत के बाद बहन का भी रो रोकर बुरा हाल है।

इसे भी पढ़ें : सडक़ पर पड़ा मिला रिटायर्ड टीआई के बेटे का शव, पुलिस जांच में जुटी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned