scriptChildren are trapped in Ukraine, increasing uneasiness in Gwalior | यूक्रेन में फंसे हुए हैं बच्चे, ग्वालियर में बढ़ रही बैचेनी | Patrika News

यूक्रेन में फंसे हुए हैं बच्चे, ग्वालियर में बढ़ रही बैचेनी

- पत्रिका ने जाने युक्रेन के हालात व परिजन के हाल

ग्वालियर

Published: February 26, 2022 10:53:33 am

ग्वालियर. रूस-यूक्रेन युद्ध से शहर का भी नाता जुड़ा है क्योंकि यूक्रेन में मेडिकल की पढ़ाई करने यहां के छात्र-छात्राएं गए हुए हैं। जो भी स्टूडेंट्स वहां हैं उनके साथ-साथ उनके परिजनों का हाल भी बुरा है। दो दिन से वहां युद्ध चलने के कारण परिजन चाहते हैं कि जल्द से जल्द उनके बच्चे सुरक्षित घर आ जाएं। पत्रिका ने उनका हाल और यूक्रेन में बच्चों से बात कर वहां के हालात को जाना।
यूक्रेन में फंसे हुए हैं बच्चे, ग्वालियर में बढ़ रही बैचेनी
यूक्रेन में फंसे हुए हैं बच्चे, ग्वालियर में बढ़ रही बैचेनी
सुरक्षित भारत लौटने पौलेंड के लिए निकले, जाम में फंसे तो चलना पड़ा 20 किमी पैदल
मानिक विलास कॉलोनी में रहने वाले संदीप बामनग्या के बेटे शांतनु बामनग्या यूक्रेन के शहर लवीव की नेशनल मेडिकल यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस कर रहे हैं। उनके पिता संदीप बामनग्या ने बताया कि बेटे की फ्लाइट 25 फरवरी को कीव से थी, लेकिन हमला होने के बाद फ्लाइट रद्द हो गई। आज बेटे ने लवीव से कैब की और दो साथियों के साथ करीब 90 किलोमीटर दूर पौलेंड जाने के लिए निकल गया था, लेकिन 70 किलोमीटर जाने के बाद यहां लंबा जाम लगा मिला। इसके बाद बेटे ने 20 किलोमीटर पैदल आगे का रास्ता तय कर रहा है। अभी कुछ देर पहले उससे बात हुई थी, वह सुरक्षित है। एक बार पौलेंड पहुंच जाए तो वह आसानी से भारत आ जाएगा। हालांकि शांतनु की मां अर्चना बामनग्या लगातार टीवी पर नजर गड़ाए हुए है और बार-बार बेटे को कॉल करके उसकी खैरियत पूछ रही हैं। संदीप कहते हैं कि अब तो हमें तभी चैन मिलेगा, जब बेटा ग्वालियर आ जाएगा।
सूमी में रूस के टैंकर नहीं रोके गए, वे बिना नुकसान पहुंचाए निकल गए
रतन कॉलोनी निवासी शाहिद अली ने बताया कि उनकी बेटी अलीशा खान सूमी स्टेट यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस की अंतिम वर्ष की पढ़ाई कर रही है। 26 मई को उसके फायनल एग्जाम होने थे। हम लगातार बेटी से फोन पर बात कर रहे हैं और उसे हालचाल पता कर रहे हैं। उसने बताया है कि पौलेंड बॉर्डर के लिए बच्चों को रवाना किया जा रहा है। पहले यूक्रेन के कीव, खारकीव के बच्चों को यहां से निकाला जाएगा। यूनिवर्सिटी की ओर से बेटी को भारत जाने के लिए तैयारियां रखने के लिए कहा है, बेटी फिलहाल दूसरे बच्चों के साथ एक फ्लेट में है। उसने बताया है कि सूमी में किसी तरह का कोई विरोध नहीं है। सूमी में रशिया के टैंकर को रोका भी नहीं गया, वे वहां से ऐसे ही निकल गए। सेवढ़ा में तहसीलदार के पद पर कार्यरत शाहिद अली ने आगे बताया कि हमने बेटी को खाने-पीने का सामान पहले से ही जुटाने के लिए बोल दिया था, इसलिए उसने करीब आठ दिन का सामान अपने पास रख लिया था। वहां एटीएम से रुपए निकालने के लिए भी लोग काफी परेशान हो रहे हैं। बेटी के साथ यहां के और भी बच्चे हैं। बेटी ने बताया था कि सूमी में अलग-अलग देशों के करीब 600 बच्चे हैं। मेरे साथ-साथ परिवार के सभी लोग इसी चिंता में है कि कैसे भी करके बेटी सकुशल घर वापस लौट आए।
सरकार वापस लेकर आएगी
विंडसर हिल निवासी अजय सिंह के पिता महिपाल सिंह ने बताया कि बेटा यूक्रेन में एमबीबीएस की पढ़ाई करने गया है। युद्ध के कारण वहां के हालात काफी खराब हो गए हैं। पर मुझे पूरी उम्मीद है कि हमारी सरकार सभी बच्चों को लाने का भरसक प्रयास कर रही है और मेरा बेटा भी जल्द ही घर वापस लौट आएगा। वैसे हमारी उससे लगातार बात भी हो रही है और वह सुरक्षित है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठाLiquor Latest News : पियक्कडों की मौज ! रात एक बजे तक खरीदी जा सकेगी शराबशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफMorning Tips: सुबह आंख खुलते ही करें ये 5 काम, पूरा दिन गुजरेगा शानदारDelhi Schools: दिल्ली में बदलेगी स्कूल टाइमिंग! जारी हुई नई गाइडलाइनMahindra Scorpio 2022 का लॉन्च से पहले लीक हुआ पूरा डिजाइन और लुक, बाहर से ऐसी दिखती है ये पावरफुल कारबैड कोलेस्‍ट्राॅल और डिमेंशिया को कम करके याददाश्त को बढ़ाता है ये लाल खट्‌टा-मीठा फल, जानिए इसके और भी फायदेAC में लगाइये ये डिवाइस, न के बराबर आएगा बिजली बिल, पूरे महीने होगी भारी बचत

बड़ी खबरें

अब असम में भी चला बुलडोजर, थाना फूंकने वाले पांच परिवारों के घर गिराए, 20 आरोपी हिरासत मेंAzam Khan और अखिलेश में बढ़ी दूरियां, सपा विधानमंडल दल की बैठक में नहीं गए आजम खानगृहमंत्री अमित शाह ने राहुल गांधी पर कसा तंज, कहा - 'इटालियन चश्मा उतारें, तभी दिखेगा विकास''मातोश्री क्या कोई मस्जिद है?' पुणे रैली में राज ठाकरे ने PM से की यूनिफॉर्म सिविल कोड व जनसंख्या नियंत्रण कानून की मांगपटना एयरपोर्ट पर बड़ा हादसा, निर्माण कार्य के दौरान गिरा लोहे का स्ट्रक्चर, दो मजदूरों की मौत, एक की टूटी रीढ़ की हड्डीPM मोदी तक पहुंची अल्मोड़ा की 'बाल मिठाई', स्टार शटलर लक्ष्य सेन ने ऐसा पूरा किया अपना वायदाराजस्थान में 50 हजार अपराधियों की बनेगी'कुंडली' थाना स्तर पर बनेगा डोजीयरभारतीय स्टार Veer Mahaan ने WWE दिग्गज को मार-मारकर किया बेसुध, पाकिस्तानी मूल का रेसलर धराशाई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.