चॉकलेट डे : मीठे रिश्ते में ऐसे घोलें मिठास फिर देखें लोगे कैसे बनते है आपके दीवाने 

रूठे को मनाना हो,रोते को हंसाना हो,बड़ों से अपनी बात मनवानी हो या फिर किसी के बीच की दूरियों को कम करना हो। बच्चे, बड़े और बूढ़े सभी के लिए चॉकलेट ही है,जो सारे जटिल कामों को आसान  करती है।

ग्वालियर। रूठे को मनाना हो,रोते को हंसाना हो,बड़ों से अपनी बात मनवानी हो या फिर किसी के बीच की दूरियों को कम करना हो। बच्चे, बड़े और बूढ़े सभी के लिए चॉकलेट ही है,जो सारे जटिल कामों को आसान  करती है। दशकों से चली आ रही चॉकलेट ने भी अपनी खूबसूरती का आकार बदला है। चंद पैसों में मुट्ठी भर मिल जाने वाली चॉकलेट आज रुपयों में आने लगी है। इसका दायरा भी अब बढ़ गया है। यह चॉकलेट आज बर्थडे पार्टी, मैरिज एनिवर्सरी, ओकेजन पर अपनों को गिफ्ट देने का भी एक माध्यम है। शुक्रवार को चॉकलेट डे है। इस ओकेजन को लेकर मार्केट सज चुका है।  चॉकलेट डे पर patrika.com आपको बता रहे है चॉकलेट प्यार में कैसे घुलता है मीठी बातें। 


लड्डू, बरफी के साथ चॉकलेट 
किसी भी अच्छे काम में सगुन के रूप में लड्डू, काजू बरफी लेकर जाना शुभ माना जाता था, लेकिन आज इसमें एंट्री गिफ्ट पैक्ड चॉकलेट ने भी ले ली है। पैक्ड चॉकलेट का चलन पिछले तीन साल में शहर में काफी बढ़ा है।

Image may contain: food

 मिठाई भले ही लोग खास फंक्शन में परचेज करते हों, लेकिन चॉकलेट पसंद करने वाले तो कोई न कोई बहाना ढूंढ़ते हैं। बिजनेसमैन दौलतराम बताते हैं कि मैं जब भी अपनी शॉप से घर जाता हूं, अपने बच्चों के लिए चॉकलेट लेकर ही जानी पड़ती है। उसके बिना वह नहीं सोते।


मार्केट में शुगर फ्री चॉकलेट
शहर में चॉकलेट की कई फैक्ट्रियां भी हैं, जो डिफरेंट टाइप की चॉकलेट बनाती हैं। मार्केट में यदि चॉकलेट के रेट की बात की जाए, तो एक रुपए से शुरू होकर १५० रुपए तक हैं। इनमें गिफ्ट पैक्ड चॉकलेट १५० रुपए से शुरू होकर १३०० रुपए तक हैं।

Image may contain: 1 person, standing

 चॉकलेट फैक्ट्री के ऑनर नरेन्द्र रोहिरा बताते हैं कि पिछले तीन साल में चॉकलेट की डिमांड काफी बढ़ी है। बच्चों की पहली पसंद रहने वाली चॉकलेट अब बड़े और सीनियर सिटीजन भी खाने लगे हैं। यही कारण है कि मार्केट में शुगर फ्री चॉकलेट भी अवेलेबल है। 


पोषक तत्वों से भरपूर है चॉकलेट 
चॉकलेट पोषक तत्वों से भरपूर होती है, जो सेहत पर सकारात्मक प्रभाव डालती है। कोको पेड़ के बीजों से बनी चॉकलेट एंटी ऑक्सीडेंट का सबसे बढि़या स्रोत है। शहर के फिजीशियन डॉ. पीके पाठक के अनुसार चॉकलेट न सिर्फ हमारा मिजाज दुरस्त रखती है बल्कि हाई ब्लडप्रेशर रोकने व उसमें मिलने वाला पोटैशियम और कॉपर स्ट्रोक हृदय संबंधी रोगों को रोकने में सहायक है। 


चॉकलेट में ग्लाईसीमिक इंडेक्स भी होता है कम
चॉकलेट में पाया जाने वाला आयरन खून की कमी से बचाता है और उसमें मैग्नीशियम टाइप-२, मधुमेह, हृदय रोगों से बचाता है। डॉर्क चॉकलेट रक्त परिसंचरण को बेहतर बनाती है और रक्त का थक्का जमने से रोकने में सहायक है। चॉकलेट में ग्लाईसीमिक इंडेक्स भी कम होता है। अर्थात इसको खाने से रक्त में आचानक सर्करा की मात्रा नहीं बढ़ती। लेकिन चॉकलेट का अधिक मात्रा में सेवन नुकसानदायक भी हो सकता है। बच्चे इसे कम खाएं व खाने के बाद पानी जरूर पीएं। 

 
सोशल मीडिया पर वायरल
चॉकलेट पर कई शोध हो चुके हैं और इसमें बॉडी के लिए इफेक्टिव चीजें निकलकर आई हैं, जो कहीं न कहीं शरीर के लिए फायदेमंद हैं। चॉकलेट डे पर सोशल मीडिया पर इन दिनों कई कमेंट भी वायरल हुए हैं। 

Show More
monu sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned