बैंक खातों पर चुनाव आयोग की नजर, बड़ी रकम के संदिग्ध लेन-देन पर की होगी जांच

बैंक खातों पर चुनाव आयोग की नजर, बड़ी रकम के संदिग्ध लेन-देन पर की होगी जांच

Rahul Aditya Rai | Publish: Sep, 08 2018 07:05:25 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

किसी भी बैंक खाते में 10 लाख रुपए से ज्यादा की रकम जमा होती है या निकाली जाती है, तो उसकी जांच उडऩदस्ते के जरिए कराई जाएगी

ग्वालियर। विधानसभा चुनाव की तैयारियों में लगे चुनाव आयोग द्वारा सभी बैंक खातों पर नजर रखी जा रही है। किसी भी बैंक खाते में 10 लाख रुपए से ज्यादा की रकम जमा होती है या निकाली जाती है, तो उसकी जांच उडऩदस्ते के जरिए कराई जाएगी। 1 लाख रुपए से अधिक के असामान्य लेनदेन को भी जांच के दायरे में रखा जाएगा।

 

चुनाव के दौरान मतदाता को लुभाने, संदिग्ध गतिविधियों के माध्यम डराने सहित असंवैधानिक गतिविधियों के लिए धन का इस्तेमाल किया जाता है, इसमें राजनीतिक दल के नेता, प्रत्याशी सहित किसी तीसरे के माध्यम से भी अप्रत्याशित धन खर्च करवाया जाता है, इसी पर निगरानी के लिए आयोग द्वारा यह कदम उठाया गया है।

 

इसके लिए सभी बैंकों से 10 लाख रुपए से अधिक के लेनदेन और 1 लाख रुपए से अधिक के सामान्य खाते में अधिक व्यक्तियों द्वारा जमा और तुरंत निकासी वाले एकाउंट की पूरी जानकारी मांगी गई है।

 

जनधन खातों की जानकारी मांगी
चुनाव आयोग द्वारा भितरवार, डबरा, ग्वालियर दक्षिण, ग्वालियर पूर्व, ग्वालियर ग्रामीण, ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र में खुले जनधन खातों में जमा रकम की भी पूरी डिटेल मांगी गई है। जानकारी आने के बाद इनकी जांच कराई जाएगी, ताकि पैसे के लेनदेन का पूरा सच पता चल सके।

 

इस तरह होगी कार्रवाई
-बीते दो महीनें में किसी भी बैंक खाते से 1 लाख रुपए से अधिक का असामान्य या संदेहजनक लेन-देन का ब्यौरा प्रत्येक बैंक से लिया जाएगा।
- ऐसा कोई डिपोजिट जो बिना आरटीजीएस के हुआ है, जांच की श्रेणी में रखा जाएगा। -एक ही बैंक खाते में अलग-अलग व्यक्तियों के खातों की राशि का असामान्य अंतरण की जानकारी बैंक से ली जाएगी।
-चुनाव लडऩे वाले उम्मीदवार, उनकी पत्नी या फिर उनके आश्रितों के खातों में 1 लाख रुपए से ज्यादा नकद जमा या निकासी की जाए तो निगाह रखी जाएगी।
-10 लाख रुपए से ज्यादा रकम जमा या निकासी की गई है तो आयकर को जानकारी जरूर दी जाए। -संदेहास्पद लेनदेन होने पर उडऩदस्ता भेजकर जांच कराई जाए।

 

भारत निर्वाचन आयोग ने विधानसभा निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान असामान्य और संदेहास्पद लेनदेन की जानकारी प्रत्येक बैंक से प्राप्त करने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी निर्देशों का कठोरता से पालन करने के लिए कहा है। इसी परिपेक्ष्य में सभी बैंकों से जानकारी मांगी गई है।
राघवेन्द्र पांडेय, उप जिला निर्वाचन अधिकारी

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned