IAS का पॉवर : बूंद बूंद के लिए तरसती थी बूढ़ी मां, 1 घंटे में मिला 'अमृत'

कलेक्टर ने सुनी बूढ़ी मां की फरियाद, सालों पुरानी समस्या का एक घंटे के अंदर करवा दिया स्थायी निदान..

By: Shailendra Sharma

Published: 30 Dec 2020, 06:14 PM IST

ग्वालियर. एक IAS अधिकारी का पॉवर क्या होता है इसका एक ताजा उदाहरण ग्वालियर में देखने के लिए मिला। यहां एक 70 साल की बुजुर्ग महिला का बीते कई सालों का दर्द कलेक्टर साहब के आदेश के बाद महज एक घंटे के अंदर मिट गया। बुजुर्ग महिला लाजवंती अपनी फरियाद लेकर कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के पास पहुंची थी और वहां से खुशी खुशी घर लौटी।

01_amma.png

बूंद-बूंद को तरसकर बूढ़ी हुई बुजुर्ग मां का दर्द
शहर के मामा बाजार के हैदरगंज में रहने वाली 70 साल की बुजुर्ग लाजवंती कलेक्टर कौशलेन्द्र सिंह की जनसुनवाई में अपनी फरियाद लेकर पहुंची थी। कलेक्टर कौशलेन्द्र सिंह जब सभी आवेदकों से मिलते हुए बुजुर्ग लाजवंती के पास पहुंचे तो लाजवंती ने बड़े ही दुखभरे गले से उनसे कहा कि साहब पानी के लिए भटक-भटककर मैं बूढ़ी हो गई हूं, कई सालों से दूसरे के घरों से पानी भरकर अपनी जिंदगी बिता रही हूं मेरे घर पर एक नल कनेक्शन करवा दीजिए। लाजवंती ने कलेक्टर से कहा कि वो कई बार अधिकारियों से भी नल लगवाने की फरियाद लगा चुकी है लेकिन अभी भी उसे बूंद-बूंद के लिए तरसता पड़ता है।

 

02_amma.png

1 घंटे के अंदर घर में लगे दो नल
बुजुर्ग लाजवंती की फरियाद सुनने के कारण कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने तुरंत नगर निगम के अधीक्षण यंत्री को फोन किया। कलेक्टर ने उनसे सवाल किया कि नये नल कनेक्शन के लिए कितने पैसे लगते हैं और कनेक्शन होने में कितना वक्त लगता है। जिस पर अधीक्षण यंत्री ने कहा कि 1700 रुपए नए नल कनेक्शन का शुल्क है और 1 घंटे में नया नल कनेक्शन लग जाता है। जिस पर कलेक्टर ने उन्हें बुजुर्ग महिला के घर पर नल कनेक्शन लगाने का आदेश दिया। नगर निगम अधीक्षण यंत्री को आदेश देने के बाद कलेक्टर ने अपने एक कर्मचारी के साथ बुजुर्ग लाजवंती को घर भेजा और जब तक बुजुर्ग लाजवंती घर पहुंची तो वहां नल लगाने का काम शुरु हो चुका था। महज एक घंटे बाद ही बुजुर्ग लाजवंती की जिंदगी में वो चमत्कार हुआ जिसकी उम्मीद शायद उसी को नहीं थी। उसके घर में दो नल लग चुके थे। जिनमें से एक पुरानी लाइन से तो दूसरा अमृत परियोजना के तहत लगाया गया। सालों से पानी के लिए कष्ट भोगने वाली लाजवंती ने कलेक्टर की तरफ से कराए गए उस काम को लेकर उन्हें तहे दिल से धन्यवाद दिया।

Show More
Shailendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned