जीवाजी यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों को अब तीन ग्रेड में मिलेगी संबद्धता

जीवाजी यूनिवर्सिटी से संबद्ध कॉलेजों को अब तीन ग्रेड में मिलेगी संबद्धता

Rizwan Khan | Publish: Apr, 17 2019 06:42:03 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

जीवाजी विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेजों को अब ग्रेडिंग के आधार पर ही संबद्धता दी जाएगी। ए-ग्रेड वाले कॉलेज को तीन साल के

ग्वालियर. जीवाजी विश्वविद्यालय से संबद्ध कॉलेजों को अब ग्रेडिंग के आधार पर ही संबद्धता दी जाएगी। ए-ग्रेड वाले कॉलेज को तीन साल के लिए, बी ग्रेड आने पर दो साल तक, सी ग्रेड आने पर प्रतिवर्ष संबद्धता करानी पड़ेगी। संबद्धता की प्रक्रिया के लिए फार्मेट तैयार किया गया है। निर्णय जेयू की कुलपति प्रो.संगीता शुक्ला की अध्यक्षता में हुई स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में लिया गया है।
सोमवार को जेयू में स्टैंंिडंग कमेटी की बैठक हुई। बैठक में कॉलेजों की संबद्धता और बीएड कॉलेजों की निरीक्षण रिपोर्ट भी पेश हुई। इस दौरान निर्णय लिया गया कि कॉलेजों की संबद्धता का निर्धारण नैक और एनआईआरएफ की तरह कॉलेजों की ग्रेडिंग करके ही संबद्धता दी जाए। साथ ही तय किया कि कॉलेजों से नैक निरीक्षण के लिए सेल्फ स्टडीज रिपोर्ट फार्म भरवाया जाएगा।

इस तरह होगा निरीक्षण
सिस्टम में बदलाव होने के बाद अब जेयू के विशेषज्ञों का दल कॉलेजों की रिपोर्ट का अध्ययन करेगा। सभी कॉलेजों को छात्रों को दी जा रहीं सुविधाओं का उल्लेख करना पड़ेगा। यह देखा जाएगा कि छात्रों को शिक्षक, लाइब्रेरी सहित अन्य सुविधाएं किस स्तर की दी जा रही हैं। कॉलेज द्वारा दिए गए प्रोफार्मा का प्रमाणीकरण करने के बाद ही संबद्धता की समय सीमा का निर्धारण होगा।

बीएड कॉलेजों को निर्देश
181 बीएड कॉलेजों की निरीक्षण रिपोर्ट भी स्टैंडिंग कमेटी की बैठक में रखी गई।जिसमें निर्णय लिया कि 50 सीट की मान्यता देने के लिए कॉलेज संचालक को 4 नियमित, 3 अस्थाई शिक्षक और 1 प्राचार्य नियुक्त करना पड़ेगा जबकि 100 सीट के लिए 1 प्राचार्य, 7 स्थाई शिक्षक, 8 अस्थाई शिक्षक रखने पड़ेंगे।
कॉलेज में शिक्षक, लैब, लाइब्रेरी व अन्य सुविधाओं के आधार पर ए, बी और सी ग्रेड दी जाएगी। यही ग्रेड कॉलेज की संबद्धता तय करेगी। ऐसा होने से कॉलेजों का हर साल निरीक्षण नहीं कराना पड़ेगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned