scriptConsidering dead, the family performed the last rite | मरा समझ कर परिवार ने किया अंतिम संस्कार | Patrika News

मरा समझ कर परिवार ने किया अंतिम संस्कार

जिंदा देखकर हैरान हुए परिवार के लोग
15 दिन से लापता था युवक
मरने वाला कौन पुलिस पता लगा रही

ग्वालियर

Published: May 07, 2022 01:21:09 am

ग्वालियर। जिसे मरा समझ परिवार अंतिम संस्कार कर चुका, घर में मौत का मातम मनाया जा रहा था। वह अचानक सामने आया गया। उसे जिंदा देखकर परिवार दुख तो भूल गया। लेकिन उलझन में आ गया उनके घर का सदस्य जिंदा है तो वह कौन था जिसकी लाश का अंतिम संस्कार कर आए हैं। गुत्थी अब कोतवाली पुलिस के पाले में हैं। क्योंकि पुलिस भी सरकारी कागजों में अज्ञात लाश को उसके परिजन को सौंपना बता चुकी है।
Family members were shocked to see alive
मरा समझ कर परिवार ने किया अंतिम संस्कार
यह है मामला
नौगजा रोड पर रहने वाला रोहित उर्फ जुगल किशोर सिंह करीब 15 दिन से गायब था। बिना बताए घर से जाना उसकी आदत में शामिल था। इसलिए परिजन भी चिंता नहीं करते थे। दो दिन पहले महाराज बाड़ा पार्क पर अज्ञात लाश मिली।
उसका हुलिया रोहित से मेल खा रहा था। पुलिस ने लाश की पहचान के लिए फोटो सोशल मीडिय़ा पर अपलोड किए। रोहित के परिजन ने देखे तो उसे रोहित समझ लिया। गफलत यहां हुई कि मृतक को लकवा लगा था।
रोहित भी इसका शिकार हो चुका है। मरने वाले का हुलिया और दाड़ी भी रोहित से मेल खा रही थी। रोहित का भाई श्याम और हेंमत के अलावा पिता और जीजा भी लाश की पहचान के लिए शव परीक्षण गए। उसे रोहित की लाश बताकर ले आए। उसका अंतिम संस्कार कर दिया। छोटे भाई ने सिर भी मुंडवा लिया।
श्मशान जाने से पहले पता चला
परिजन ने बताया शुक्रवार सुबह फूल बीनने जाने वाले थे, तब रोहित के साले का फोन आया कि वह तो जिंदा गिरवाई में पटाखा फैक्ट्री के पास बैठा है। यह सुनकर परिजन वहां पहुंचे। रोहित मिल गया तो उसे घर लाए। फिर पुलिस को बुलाया।
पुडिय़ा खाने गया वहीं रूक गया
अक्सर इसी तरह घर से चला जाता हूं, गुटखा खाने निकला था। गिरवाई में पटाखा कारखाना पहुंच गया। वहीं रूक गया। वहां रहने वाले जर्नादन सिंह के यहां रोटी खा लेता था। वहीं आसपास सो जाता था। शुक्रवार सुबह ***** उसे देखकर भागा तो शक हुआ। कुछ देर बाद परिजन आकर ले गए।
जैसा रोहित सिंह ने इंदरगंज पुलिस को बताया
लाश किसकी पहचान की जाएगी
जिसे मृतक समझ कर परिजन ने अंतिम संस्कार कर दिया। वह लाश किसकी है उसका पता लगाया जा रहा है। पुलिस ने लाश परिजन को सौंपने से पहले उसके कपड़े और फोटो लिए हैं। उनके आधार पर उसकी पहचान की जाएगी।
सत्येन्द्र सिंह एएसपी

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: उद्धव ठाकरे के इस्तीफे के बाद बीजेपी की बैठक आज, देवेंद्र फडणवीस करेंगे बड़ी घोषणाMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में फिर बनेगी बीजेपी की सरकार, देवेंद्र फडणवीस 1 जुलाई को ले सकते है सीएम पद की शपथउदयपुर मर्डर : आरोपियों के घर से जब्त की सामग्री, चार और संदिग्ध हिरासत मेंइलाहाबाद हाईकोर्ट से अनिल अंबानी को मिली राहत, उत्पीड़न कार्रवाई पर लगी रोक, जानिए पूरा मामलादो जुलाई से इन सुपरफास्ट ट्रेनों में कर सकेगें जनरल टिकट पर यात्राPOLITICS: मध्यप्रदेश की सियासत से परिवारवाद का सफाया शुरूUddhav Thackeray Resigns: फ्लोर टेस्ट से पहले उद्धव ठाकरे ने सीएम और MLC पद से दिया इस्तीफा, कहा- मेरी शिवसेना मुझसे कोई नहीं छीन सकताउदयपुर हत्याकांड के तार पाकिस्तान से जुड़े, दावत ए इस्लामी संगठन से सम्पर्क में थे आरोपी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.