नगर निगम सीमा में आने वाले सभी औद्योगिक क्षेत्रों से कचरा संग्रहण करेंगी निगम की गाडिय़ां

- ग्वालियर जिले में स्थापित उद्योगों की समस्याओं एवं निवेश की नवीन संभावनाओं पर चैंबर में परिचर्चा

By: Narendra Kuiya

Published: 13 Mar 2021, 11:55 PM IST

ग्वालियर. मप्र चैंबर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री की ओर से शनिवार को चैंबर भवन में औद्योगिक समस्याएं एवं नवीन औद्योगिक संभावनाओं पर परिचर्चा हुई। इसमें नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा ने कहा कि शहर को स्वच्छता में हम सभी को मिलकर नंबर बनाना है। नगर निगम सीमा में स्थापित सभी औद्योगिक क्षेत्रों में कचरा संग्रहण के लिए निगम की गाडिय़ां जाएंगी। इसके साथ ही चैंबर में संपत्ति कर शिविर लगाने तथा औद्योगिक इकाईयों के संपत्ति कर से संबंधित प्रकरणों का भी निराकरण शिविर भी लगाए जाएंगे। औद्योगिक क्षेत्रों में स्ट्रीट लाइट व अन्य कार्यों के लिए जिला व्यापार उद्योग केन्द्र व नगर निगम मिलकर सहमति बनाकर जिम्मेदारी तय कर कार्य करेंगे। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी किशोर कान्याल ने कहा कि ग्वालियर में औद्योगिक विकास की बहुत संभावनायें हैं। ग्वालियर अब देश के प्रमुख शहरों से एयर कनेक्टिविटी से जुड़ गया है और यह निवेशकों को आमंत्रित करने के लिए बहुत आवश्यक है।

किसने क्या कहा

मासिक बैठक करेंगे
विद्युत शिविर की तर्ज पर उद्योगों की समस्याओं पर मासिक बैठक प्रतिमाह चैंबर में होगी। वहीं प्रत्येक इण्डस्ट्रियल एरिया में आवश्यकतानुसार साप्ताहिक बैठक भी जिला प्रशासन के साथ कराई जाएगी।
- डॉ.प्रवीण अग्रवाल, मानसेवी सचिव, चैंबर ऑफ कॉमर्स

वाहनों को अनुमति नहीं
लोडिंग-अनलोडिंग के लिए जिला प्रशासन ने दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक वाहनों को आवागमन की अनुमति प्रदान की थी, जिसे पुलिस के मान्य नहीं किये जाने से परेशानी हो रही है। वहीं महाराजपुरा इण्डस्ट्रियल एरिया के प्रवेश द्बार पर खण्डों की ट्रॉलियां खड़ी होने से यातायात प्रभावित होता है, इसलिए इन्हें उचित स्थान पर स्थानांतरित किया जाए।
- संजय कपूर, अध्यक्ष, महाराजपुरा औद्योगिक क्षेत्र

प्रवेश द्वार खोले जाएं
इण्डस्ट्रियल एरिया में तीन प्रवेश द्वार थे, जबकि वर्तमान में केवल एक ही प्रवेश द्वार रह गया है। शेष दो अतिक्रमण के चलते बंद हो गये हैं। अतिक्रमण को हटाया जाए और प्रवेश द्वार खोले जायें।
- जगदीश मित्तल, सचिव, ग्वालियर इंडस्ट्रीज ऐसोसिएशन

- बिरला नगर इण्डस्ट्रियल एरिया से खालिद कुरैशी ने कहा कि ग्वालियर में इंजीनियर का क्लस्टर बनना चाहिए। यदि शासन भूमि को डेवलप कराकर दे तो 100 इकाईयां यहां स्थापित हो जायेंगी।
- स्टोन पार्क इण्डस्ट्री एसोसिएशन से सत्य प्रकाश शुक्ला ने कहा कि निगम सीमा में हो रहे विकास कार्यों में ग्वालियर के सैंड स्टोन पत्थर का प्रयोग किया जाना चाहिए ताकि यहां के प्रत्थर की ब्राण्डिंग हो सके।

ये रहे मौजूद
इस परिचर्चा में संयुक्त संचालक उद्योग विभाग निरंजन श्रीवास्तव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सत्येन्द्र सिंह तोमर, नगर निगम अपर आयुक्त नरोत्तम भार्गव, मप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी एनपी सिंह, चैंबर के मानसेवी संयुक्त सचिव ब्रजेश गोयल, संयुक्त अध्यक्ष-प्रशांत गंगवाल, कोषाध्यक्ष वसंत अग्रवाल, संजय धवन, साकेत आनंद, रवि अग्रवाल, मनोज अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

Narendra Kuiya Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned