मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि लेने भटक रहीं नवविवाहिताएं

मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि लेने भटक रहीं नवविवाहिताएं

Rajesh Shrivastava | Publish: Mar, 17 2019 07:59:16 PM (IST) | Updated: Mar, 17 2019 07:59:17 PM (IST) gwalior

विवाह सम्मेलन का आयोजन 8 मार्च को कराया था, वधुओं के खाते में राशि पहुंचाई जानी थी। योजना के तहत मिलने वाली सहायता राशि के लिए नव विवाहिताओं को परेशान होना पड़ रहा है।

ग्वालियर. मुख्यमंत्री कन्यादान विवाह/ निकाह योजना के अंतर्गत मिलने वाली सहायता राशि अभी तक नव विवाहिताओं के खाते में नहीं पहुंची है। विवाह सम्मेलन का आयोजन 8 मार्च को कराया गया था, इसके पश्चात ही सम्मेलन में शामिल होने वाली वधुओं के खाते में राशि पहुंचाई जानी थी। योजना के तहत मिलने वाली सहायता राशि के लिए नव विवाहिताओं को परेशान होना पड़ रहा है। इस संबंध में अधिकारियों से भी गुहार लगाई जा चुकी है, लेकिन अधिकारियों द्वारा कोई संतोषजनक जवाब नहीं दिया जा रहा है, जिससे विवाहिताएं परेशान हो रही हैं।

मुख्यमंत्री कन्या विवाह/ निकाह योजना के तहत विगत 8 मार्च को छत्री मंडी मैदान परिसर में सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन कराया गया था, जिसमें 78 जोड़ों के विवाह और निकाह सम्पन्न कराए गए थे। जिन युवतियों के विवाह सम्मेलन में कराए गए थे, उनके खातों में योजना के तहत 48-48 हजार रुपए जमा कराए जाने थे। साथ ही उनके विवाह और निकाह के लिए 3-3 हजार रुपए की राशि खर्च की जानी थी। विवाह के दौरान 3-3 हजार की राशि तो खर्च की गई, जिसमें गुणवत्ता का ध्यान नहीं रखा गया।

इधर, सामूहिक विवाह सम्मेलन के पश्चात ही युवतियों के खातों में 48-48 हजार रुपए शासन की योजना के तहत जमा कराए जाने थे, लेकिन कई दिनों तक जब खातों में राशि नहीं पहुंची तो युवतियों के परिजन द्वारा नगर निगम कार्यालय में संपर्क किया गया, वहां मौजूद अधिकारियों द्वारा हर बार आश्वासन दिया जा रहा है कि अभी प्रक्रिया चल रही है, शीघ्र ही सभी के खातों में राशि जमा कराई जाएगी, लेकिन विवाह सम्मेलन के करीब 8 दिन बीत जाने के बाद भी एक भी युवती के खाते में राशि नहीं पहुंची है, जिसको लेकर युवतियों और उनके परिजन को शासन द्वारा मिलने वाली 48-48 हजार की राशि के लिए कार्यालयों के चक्कर काटने को मजबूर होना पड़ रहा है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned