लोहा खदान में पार्टनर बनाने का झांसा देकर दंपती ने 65 लाख रुपए ठगे

लोहा खदान में पार्टनर बनाने का झांसा देकर दंपती ने 65 लाख रुपए ठगे
लोहा खदान में पार्टनर बनाने का झांसा देकर दंपती ने 65 लाख रुपए ठगे

Rizwan Khan | Updated: 21 Sep 2019, 06:19:05 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

लोहा खदान में हर महीने दो से तीन लाख रुपए की कमाई का लालच देकर दंपती ने कारोबारी से 65 लाख रुपए ऐंठ लिए। पैसा देने के बाद खदान का नामोनिशान सामने नहीं आया तो कारोबारी ने दंपती की कुंडली कुरेदी। पता चला कि उनकी तरह दोनों कई और लोगों से यही वादा कर पैसा ले चुके हैं।

ग्वालियर. लोहा खदान में हर महीने दो से तीन लाख रुपए की कमाई का लालच देकर दंपती ने कारोबारी से 65 लाख रुपए ऐंठ लिए। पैसा देने के बाद खदान का नामोनिशान सामने नहीं आया तो कारोबारी ने दंपती की कुंडली कुरेदी। पता चला कि उनकी तरह दोनों कई और लोगों से यही वादा कर पैसा ले चुके हैं। ठगी पकड़े जाने पर दोनों ने पैसा लौटाने का वादा कर कुछ चेक भी थमाए, लेकिन उनसे भुगतान नहीं हुआ। कई चैक बाऊंस हो गए।
फालका बाजार निवासी सुरेश साहू ने बताया सत्यदेवनगर थाटीपुर निवासी पवन और उनकी पत्नी माधवी शर्मा से करीब पांच साल पहले मुलाकात हुई थी। दोनों ने उसके बाद उनके घर आना जाना शुरु कर दिया। एक बार दोनों रेतीला पत्थर लेकर घर आए उनसे कहा कि इसमें लोहा मिला है। इसकी खदान ले रहे हैं पार्टनर हो जाओ हर महीने दो से तीन लाख रुपया घर बैठे मिलेगा।
दोनों से दोस्ती हो गई थी इसलिए भरोसा कर 65 लाख रुपया खदान लेने के लिए दे दिया। कुछ दिन इंतजार किया फिर पूछा कि लीज का क्या हुआ तो दोनों ने बहला दिया कि फाइल भोपाल में अटकी है। कई बार यही जबाव मिला तो उनकी नीयत पर शक हुआ। अपने स्तर पर उनके बारे में जानकारी जुटाई तो पता चला कि दोनों खदान के नाम पर कई लोगों से पैसा ले चुके हैं। दोनों पर पैसा लौटाने का दबाव बनाया। माधवी ने 36 लाख रुपए कीमत का अपना मकान और 29 लाख रु के कुछ चैक दे दिए। जब चैक को बैंक में लगाया तो ज्यादातर बाऊंस हो गए। जो मकान देने की डील की वह भी भोपाल की फाइनेंस कंपनी के पास गिरवी रखा था इसके बावजूद गांधीनगर में उमाशंकर तिवारी से भी उसका सौदा दंपति कर चुके थे। हर कदम पर फरेब सामने आने पर पुलिस से शिकायत की। कानूनी कार्रवाई ्रकरने पर दंपति ने धमकाया कि सिर मत उठाओ वरना जान चली जाएगी। दोनों पर इंदरगंज पुलिस ने ठगी का केस दर्ज किया है, लेकिन आरोपियों को पकड़ नहीं पाई।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned