पैसे को लेकर विवाद में पार्टनर की हत्या करने वाले को उम्र कैद

ग्वालियर। टैक्सी के कारोबार में साझेदारी के चलते पैसे के विवाद पर पप्पू भदौरिया की गोली मारकर हत्या करने वाले राकेश केवट को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। इस मामले में एक अन्य आरोपी कालू उर्फ खलील को बरी कर दिया है।

अपर सत्र न्यायाधीश डॉ कुलदीप जैन ने आरोपी राकेश केवट को भादसं की धारा ३०२ के अपराध में दोषी पाते हुए यह सजा सुनाई है। आरोपी पर एक हजार रुपए का जुर्माना भी किया गया है। अतिरिक्त लोक अभियोजक शिवेन्द्र सिंह यादव ने बताया कि मृतक पप्पू भदौरिया एवं राकेश केवट टैक्सी चलाने का कारोबार साझेदारी में करते थे। दोनों के बीच पैसे को लेकर विवाद हो गया, पप्पू भदौरिया राकेश को प्रताडि़त करता था इस कारण राकेश ने पप्पू को ठिकाने लगाने के लिए पैसे के लेनदेन को लेकर तिघरा पर बुलवाया। यहां कालू उर्फ खलील भी मौजूद था। तिघरा पर आरोपियों ने पप्पू के साथ शराब पी, इसके बाद राकेश ने पप्पू को गोली मार दी जिससे पप्पू की मौके पर ही मौत हो गई थी। पुलिस ने जांच के बाद राकेश और कालू को आरोपी बनाया था। न्यायालय ने आरोपी कालू के खिलाफ प्रमाण नहीं होने पर उसे दोषमुक्त कर दिया।

Rajendra Talegaonkar
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned