पत्नी और ससुराल पक्ष की प्रताड़ना से परेशान था न्यायालयीन कर्मचारी! फांसी लगाकर की आत्महत्या

युवक के पास से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला, जिसमें , सास, ससुर और साड़ू पर वैवाहिक जीवन बिगाड़ने की बात कही गई है।

By: Faiz

Published: 18 Feb 2021, 03:25 PM IST

ग्वालियर/ मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक युवक ने पत्नी और ससुराल की प्रताणना से दुखी होकर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना जिले के थाटीपुर इलाके के सरकारी आवास की है। मृतक जिला न्यायालय में कर्मचारी पद पर कार्यरत था। कुछ समय से उसकी पत्नी मायके में रह रही है और आने से इंकार कर रही है। युवक के पास से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला, जिसमें , सास, ससुर और साड़ू पर वैवाहिक जीवन बिगाड़ने की बात कही गई है।

 

पढ़ें ये खास खबर- व्यापारी से 58 लाख की ठगी, रुपए वापस मांगने पर ठगों ने दी हत्या कराने की धमकी


पत्नी घर आने को राजी हुई, फिर क्यों लगा ली फांसी

फिलहाल, मामला सामने आने के बाद थाटीपुर थाना पुलिस घटना स्थल पर पहुंचकर जांच शुरू कर दी है। थाटीपुर थाना क्षेत्र के एफ 43 निवासी बलबहादुर कोरकू पुत्र हरीश चंद्र कोरकू न्यायालय में कर्मचारी था। कुछ समय से उसका पत्नी से मन मुटाव चल रहा था। पत्नी ने उसपर दहेज प्रताड़ना का मामला भी दर्ज कराया था। मंगलवार रात उसने पत्नी से मोबाइल पर बात की। बातचीत के दौरान उसने अपनी पत्नी से घर लौट आने का निवेदन किया, जिसपर पत्नी आने के लिये तैयार भो गई। वो अपने सरकारी आवास पर पहुंचा और घर की साफ सफाई करने के बाद फांसी लगा ली।

 

पोस्टमार्टम के लिये भेजा शव

काफी देर तक जब बलबहादुर अपने घर नहीं अया तो उसका भाई धर्म सिंह उसे तलाशता हुआ सरकारी आवास पर पहुंचा, तो उसने अपने भाई को फांसी के झूलता हुई देखा। घटना की जानकारी पुलिस को दी गई, जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया।

 

पढ़ें ये खास खबर- सरकारी जमीन पर था अतिक्रमण, भारी पुलिसबल के साथ चला प्रशासनिक बुलडोजर


सुसाइड नोट में लिखी थी ये बात

शव के पास से पुलिस को एक सुसाइड नोट भी मिला, जिसमें पत्नी द्वारा प्रताड़ना का शिकार होकर जान देने का फैसला करना बताया गया है। नोट में ये भी लिखा था कि, सास-ससुर, साडू ओर साडू के पिता ने उसका वैवाहिक जीवन खराब कर रखा था। पत्नी आगरा मायके में रह रही है। उसने उनकी मांग के अनुसार 16 लाख रुपए भी दिए है। पर अब समझौते के लिए 10 लाख की मांग और कर रहे हैं। पत्नी आने को तैयार थी, लेकिन अब नहीं आ रही, इसीलिए वे जान दे रहा है। फिलहाल, थाटीपुर थाना प्रभारी आरबीएस विमल मामले की तहकीकात में जुटे हैं।

 

हादसों से नहीं ले रहे सबक - video

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned