चार डिग्री और गिरा पारा,मौसम वैज्ञानिकों ने की यह भविष्यवाणी

चार डिग्री और गिरा पारा,मौसम वैज्ञानिकों ने की यह भविष्यवाणी

By: monu sahu

Published: 07 Jan 2019, 08:01 AM IST

ग्वालियर। शहर में मौसम के करवट लेते ही सर्दी का असर दिखा। बर्फीली हवा चलने से शुक्रवार के मुकाबले शनिवार और रविवार को पारे में 4 डिग्री सेल्सियस की गिरावट दर्ज की गई। धूप न निकलने और सर्द हवा चलने से सर्दी के प्रकोप ने लोगों को कंपकपाने के लिए मजबूर कर दिया। जगह-जगह अलाव जले उठे। बाजारों और सडक़ों पर अन्य दिनों की अपेक्षा चहल-पहल कम दिखाई दी। शनिवार को धुंध सी छाई रहने व सर्द हवा चलने से लोगों की सुबह देर से हुई।

 

आठ बजे के बाद धुंध तो साफ हो गई लेकिन आसमान साफ नहीं हुआ और कुछ समय के बाद सूर्यदेव नहीं निकले और जल्दी छुप गए। जिसके कारण ठंड का प्रभाव अधिक रहा और लोग दिनभर ऊनी वस्त्र पहने हुए रहे। सर्दी के चलते बाजारों, बस स्टैंड और समेत कईजगह लोग अलाव जलाकर ठंड को भगाने की कोशिश में रहे। शुक्रवार को न्यूनतम पारा 11 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था जो शनिवार को गिरकर 07 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया।

 

नहीं जल सके पालिका की ओर से अलाव
सर्दी के सीजन का दो महीने का समय निकल चुका है। ठंड इनदिनों पूरे जोर पर चल रहा है। बर्फीली हवा ने लोगों को ठिठुरा दिया है इसके बाद भी नगर पालिका ने अभी तक सार्वजनिक स्थलों पर सरकारी अलाव जलाने की व्यवस्था तक नहीं की है और ऐसा लग रहा है कि नगर पालिका अब अलाव जलाने के मूढ़ में भी नहीं है। कुल मिलाकर भले ही लोग ठंड में ठिठुरे लेकिन नगर पालिका पैसा बचाने के चक्कर में है।

 

सर्दी बढऩे से ऊनी वस्त्रों की मांग बढ़ी
सर्दी बढऩे के साथ ही ऊंनी वस्त्रों की मांग एकाएक बढ़ गई। दिनभर इन दुकानों पर ग्राहकों की भीड़ लगी रही। ऊंनी वस्त्रों की दुकानें ज्यादातर ओवरब्रिज के नीचे बाजार में लगी हैं। इसके अलावा हाथ ठेलों पर भी टोपे, मफलर समेत ऊंनी स्वेटरों की बिक्री हो रही है।

monu sahu
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned