सात घंटे फंसा रहा मरा बच्चा महिला के पेट में

गर्भवती महिला के परिजनों को आरोप है कि इस कारण महिला को न सिर्फ बेचैनी बढ़ गई है बल्कि उसका पेट भी फूलने लगा है परंतु डॉक्टर्स कोई एक्शन नहीं ले रहे ह

By: Gaurav Sen

Published: 12 Nov 2017, 03:14 PM IST

शिवपुरी. जिला अस्पताल में भर्ती एक गर्भवती महिला के पेट में पल रहे बच्चे की मौत हो गई। गर्भ में मृत बच्चे को डिक्लियरेशन के सात घंटे बाद भी बाहर नहीं निकाला गया है। गर्भवती महिला के परिजनों को आरोप है कि इस कारण महिला को न सिर्फ बेचैनी बढ़ गई है बल्कि उसका पेट भी फूलने लगा है परंतु डॉक्टर्स कोई एक्शन नहीं ले रहे हैं।


जानकारी के अनुसार खोड़ चिनावनी निवासी सोनिया पत्नी आनंद वाल्मीकि उम्र 22 साल के गर्भ में 8 माह का बच्चा पल रहा था। करीब पांच दिन पहले अचानक उसकी तबीयत बिगड़ गई तो परिजन उसे जिला अस्पताल लेकर आए। जहां इलाज के दौरान शनिवार को उसके गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत हो गई। डॉक्टर्स ने चेकअप के उपरांत सुबह 10बजे पेट में पल रहे बच्चे को मृत घोषित कर दिया, परंतु शाम के पांच बजे तक बच्चे को बाहर नहीं निकाला गया। सोनिया के पति का कहना है कि इस कारण सोनिया का पेट फूलने लगा है और उसे बेचैनी बढऩे लगी है। ड्यूटी डॉक्टर कई बार कहने के बावजूद कोई ध्यान नहीं दे रही है।


महिला के परिजन जबरन बवंडर कर रहे हैं। ड्यूटी पर मौजूद डॉक्टर इंदु ने सोनिया को इंजेक्शन लगा दिए हैं परंतु अभी उसे दर्द नहीं हो रहे हैं। दर्द होते ही बच्चा खुद व खुद बाहर आ जाएगा। बच्चा पेट में होने से उसे फिलहाल कोई नुकसान नहीं है, डॉक्टर उसका चैकअप कर चुकी है।
डॉ एसएस गुर्जर, आरएमओ अस्पताल

 

नवविवाहिता ने निगला जहर
शिवपुरी।
पोहरी कस्बे में निवासरत एक नवविवाहिता ने अज्ञात कारणों के चलते जहरीला पदार्थ खा लिया। महिला को इलाज के लिए जिला अस्पताल भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामले की विवेचना शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार पोहरी निवासी खुशबू पत्नी प्रशांत जादौन उम्र २५ साल को उसके परिजन जहर खाने के बाद उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल लेकर आए। महिला का इलाज जारी है, महिला के होश में न होने के कारण जहर खाने के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है। पुलिस ने मामले की विवेचना शुरू कर दी है।

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned