ड्यूटी से लौटते वक्त डिप्टी रेंजर को लाठियों से पीटा, बचने के लिए खेतों में दौड़े

ड्यूटी से लौटते वक्त डिप्टी रेंजर को लाठियों से पीटा, बचने के लिए खेतों में दौड़े

monu sahu | Updated: 14 Jun 2019, 12:51:22 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

डिप्टी रेंजर लाल घाटी स्टोन पार्क होते हुए चंद्रनगर घर की ओर लौट रहे थे

ग्वालियर। डयूटी से घर लौट रहे वन विभाग के डिप्टी रेंजर को चार लुटेरों ने लाल घाटी पर रोककर लाठियों से पीटा। लुटेरे से बचने डिप्टी रेंजर दौड़ कर खेतों में घुस गए और लुटेरों पर पथराव कर दिया।जिसके बाद लुटेरे भाग गए। डिप्टी रेंजर के साथ वारदात का सुनकर उनके सहयोगी भी मदद के लिए पहुंच गए। डिप्टी रेंजर हरिवल्लभ चतुर्वेदी ने बताया उनकी डयूटी वीलपुरा चौकी, पुरानी छावनी पर है। शाम को लाल घाटी, स्टोन पार्क होते हुए चंद्रनगर घर लौट रहे थे गुरुवार शाम करीब 7 बजे लालघाटी पर तीन बदमाश लाठियां लेकर सडक़ पर मौजूद थे, जबकि चौथा बदमाश बाइक से कुछ दूरी पर खड़ा था।

यह भी पढ़ें : बूंदाबांदी के बाद बढ़ी उमस,मौसम वैज्ञानिक बोले यह बात

उन्हें आता देखकर बाइक सवार लुटेरा अलर्ट हो गया। वह उसके बाजू में आए तो उसने मोटरसाइकिल अड़ा कर रास्ता रोक लिया। तीन लुटेरों ने उन्हें लाठियों से पीटा। चतुर्वेदी उनके शिकंजे से निकल कर खेतों की तरफ भागे। वहां कुछ पत्थर पड़े थे उन्हें उठाकर लुटेरों पर फेंका, मदद के लिए जोर से चिल्लाते रहे। पकड़े जाने के डर से लुटेरे धमकी देकर भाग गए। हरिवल्लभ के साथ वारदात की जानकारी मिलने पर उनके सहकर्मी भी लालघाटी पहुंच गए। फिर थाने आकर पुलिस को घटना बताई।

यह भी पढ़ें : डीन की बात से भडक़े सांसद बोले- तो क्या 30 माह तक मरीजों को खतरे में डालोगे

9 महीने बाद फिर घटना
करीब 9 महीने पहले हरिवल्लभ चतुर्वेदी पर लखनपुरा के जंगल में पत्थर माफियाओं ने फायरिंग की थी। इसमें डिप्टी रेंजर चतुर्वेदी सहित फारेस्ट गार्ड हरीशचंद चौहान को गोलियां मिलीं थीं। उस वक्त डिप्टी रेंजर और गार्ड टीम के साथ पत्थर चोरों को पकडऩे गए थे। पत्थर चोरों का पीछा कर रही टीम को पत्थर चोरों के मददगारों ने छीकरी के जंगल में घेरकर गोलियां चलाई थीं। इसमें चतुर्वेदी और गार्ड चौहान जख्मी हुए थे।

यह भी पढ़ें : पत्नी को मारकर ऑटो चालक फांसी के फंदे पर झूला, 6 माह पहले हुई थी शादी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned