लापरवाही बनी मुसीबत, नालों की सफाई न होने से घरों में भरा गंदा पानी

नगर निगम द्वारा बारिश से पूर्व नालों की सफाई की बात कही जा रही थी, लेकिन अभी तक नालों की सफाई नहीं हो सकी है। अब जब मानसून आ गया है और बीते दो दिनों से बारिश भी हो रही है तो लोगों के घरों में पानी घुस गया है।

By: राजेश श्रीवास्तव

Published: 07 Jul 2019, 02:30 AM IST

ग्वालियर. नगर निगम द्वारा बारिश से पूर्व नालों की सफाई की बात कही जा रही थी, लेकिन अभी तक नालों की सफाई नहीं हो सकी है। अधिकारियों की लापरवाही लोगों के लिए मुसीबत बन रही है। लोगों ने नालों की सफाई के लिए निगम अधिकारियों से शिकायत भी की थी, लेकिन इस ओर किसी ने ध्यान नहीं दिया, अब जब मानसून आ गया है और बीते दो दिनों से बारिश भी हो रही है तो लोगों के घरों में पानी घुस गया है। आलम यह है कि नाले की गंदगी लोगों के घरों में जमा हो गई है। जिसके कारण लोग परेशान हैं।
वार्ड 64 स्थित लोहार मोहल्ला में अक्सर बारिश के समय पानी कॉलोनी में भर जाता है। लोगों के घरों तक नाले का पानी पहुंच जाता है। इसको लेकर करीब एक महीने पहले से रहवासी निगम अधिकारियों से शिकायत कर रहे थे कि नाले की सफाई कर दी जाए और गंदगी के ढेर को हटा दिया जाए। जिससे बारिश के समय यह पानी की निकासी में अवरोध नहीं बने, लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया गया। इसके कारण गत दिवस हुई बारिश से घरों में ही पानी जमा हो गया। जिससे लोगों का सामान अस्त व्यस्त हो गया। इसको लेकर भी लोगों ने शिकायत की, लेकिन फिर भी कोई सुनवाई नहीं हुई। कॉलोनी के रहवासी एसएस कुशवाह ने बताया कि बारिश का पानी घरों में भर गया तो इसकी शिकायत की लेकिन जब कोई नहीं आया तो लोग दिनभर पानी निकालने में जुटे रहे। नाले की गंदगी घरों में घुस गई। बदबू से लोगों का बुरा हाल है। जब तक बारिश हुई लोग सीढिय़ों पर ही बैठे रहे। गंदगी के चलते लोगों के बीमार होने का भी खतरा है। यह हाल तब है जबकि बार-बार अधिकारी नालों की सफाई का दावा कर रहे थे। नालों की सफाई पर लाखों रुपए खर्च भी किए जा रहे हैं। इसके बावजूद शहर के हालात नहीं सुधरे। यह हाल शहर के कई निचले क्षेत्रों में है। अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा आमजन को उठाना पड़ रहा है।

Show More
राजेश श्रीवास्तव Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned