प्रशासनिक अधिकारी करेंगे वार्डों में सफाई की मॉनिटरिंग

शहर की सफाई व्यवस्था पटरी पर नहीं आ पा रही है। निगम में ३ हजार से अधिक सफाईकर्मी और लगभग १०० अधिकारी और कर्मचारी मॉनिटरिंग के नाम पर तैनात हैं। इसके बावजूद व्यवस्थाएं नहीं सुधर रही हैं। निगमायुक्त ने गुरूवार को बाल भवन में स्वच्छता सर्वेक्षण २०२० को लेकर अधिकारियों एवं वार्ड हेल्थ ऑफिसर की बैठक ली और ७ दिन में वार्डों से कचरा के ठिए समाप्त करने के निर्देश दिए। निगमायुक्त ने कहा कि ७ दिन बाद कलेक्ट्रेट से अधिकारी वार्डों का निरीक्षण करेंगे और उसके आधार पर ही वार्ड रिपोर्ट तैयार की जाएगी।

निगमायुक्त ने बैठक में वार्ड मोनिटर, डब्ल्यू एचओ को निर्देश दिए कि क्षेत्र में घूमें और कचरे के ठिए का पता लगाएं। इन सभी ठिए को ७ दिन के अंदर साफ कराएं तभी वार्डों को कचरा मुक्त बनाया जा सकेगा। दोबारा वह कचरा ठिया ना बनने पाये यह भी हमें देखना है। इसके साथ ही निगमायुक्त ने कहा कि शहर के प्रमुख चौराहे और पार्कों में आकर्षक लाइटिंग की व्यवस्था की जाए। निगमायुक्त ने कहा कि शहर की 13 उत्कृष्ट सड़कों के साथ शहर की अन्य सड़कों का काम भी हमें करना है। शहर की उत्कृष्ट सड़कों के टूटे हुए फुटपाथ एवं डिवाइडर की रिपेयरिंग, दीवालों पर आकर्षक पेंटिंग कर उन रोडों को डस्ट फ्री बनाना है। यह कार्य 7 दिवस में पूर्ण कर लिया जाए। इसके अलावा प्रत्येक वार्ड में १ पार्क चिन्हित कर उसे व्यवस्थित करने के निर्देश दिए। बैठक में स्वच्छता सर्वेक्षण नोडल नरोत्तम भार्गव, अपर आयुक्त आरके श्रीवास्तव, राजेश श्रीवास्तव, दिनेश शुक्ला, उपायुक्त देवेन्द्र चैहान आदि उपस्थित थे।

Vikash Tripathi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned