वार्ड में नहीं पहुंच रही डोर डू डोर कचरा कलेक्शन की गाड़ी, निगम के दावे झूठे

नगर निगम के सभी वार्डों में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की दो दिन में ही पोल खुलती दिख रही है। क्योकि शहर के अधिकतर वार्डों के गली-मोहल्ले में डोर टू डोर....

ग्वालियर. नगर निगम के सभी वार्डों में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की दो दिन में ही पोल खुलती दिख रही है। क्योकि शहर के अधिकतर वार्डों के गली-मोहल्ले में डोर टू डोर कचरा कलेक्शन की गाड़ी पहुंच ही नहीं रही है। जिससे वहां रहने वाले नागरिकों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं निगम के अधिकारी दावा कर रहे हैं कि सभी वार्डों में गाड़ी पहुंच रही है, जबकि ग्रामीण और दक्षिण विधानसभा क्षेत्र में सबसे कम गाड़ी पहुंच रही है। ग्रामीण वार्ड में रहने वाले देवेंद्र, लोकेंद्र कटारिया, राघव और दक्षिण में अमित धाकण, रोहन गुर्जर, यशपाल चौहान ने बताया कि यहां बीते एक सप्ताह से गाड़ी ही नहीं आ रही है। जिससे उन्हें कचरा पास ही बने जगह पर डालने पड़ रहा है। वहीं ऊर्जा मंत्री के विधानसभा क्षेत्र और पूर्व में भी गाड़ी न पहुंचने की बात लोगों ने कही।

शिकायत की फिर भी समाधान नहीं
स्वच्छता और साफ सफाई को लेकर गुरुवार को 18 शिकायतें स्मार्ट सिटी के पास पहुंची है। जिसमें से सभी को कॉल करने की बात अधिकारी कह रहे हैं, लेकिन समस्या का निराकरण अभी तक नहीं हुआ। वहीं दो सप्ताह में अब तक स्मार्ट सिटी के पास 825 शिकायतें आई है जिसमें से 793 के समाधान करने का दावा अधिकारी कर रहे हैं, जबकि सच्चाई यह है कि शहर के अधिकतर वार्डों में गाड़ी न पहुंचने की शिकायत लोग लगातार कर रहे हैं।

तीन दिन से नहीं आई कचरा गाड़ी
दक्षिण विधानसभा के वार्ड 38 शंकर कॉलोनी के रहने वाले शाशिकांत धाकड़, भोला परिहार, कल्लू प्रजापति,ब्रजेश प्रजापति और नरेश ने बताया कि बीते तीन दिनों से यहां कचरा कलेक्शन की गाड़ी नहीं आ रही है। साथ ही कॉलोनी में सीवर, पानी व सड़क की परेशानी से लोग कई बार निगम आयुक्त और सांसद से शिकायत कर चुके हैं। लेकिन आज तक समस्या का समाधान नहीं हुआ है। वहीं कचरा कलेक्शन गाड़ी न आने के चलते पास ही कचरे का काफी ढेर लग गया है।

ग्रामीण क्षेत्र में भी आती नहीं गाड़ी
ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में छह वार्ड (61 से 66) आते हैं जिनमें किसी भी वार्ड में गाड़ी और ट्रैक्टर ट्रॉली न आने से लोग खासे परेशान हैं। लोगों का कहना है कि विधानसभा क्षेत्र से मंत्री भी होने के बावजूद यह समस्या बनी हुई है। उन्होंने बताया कि यहां एक सप्ताह से अधिक समय से न तो कचरा कलेक्शन गाड़ी आई और ना ही ट्रैक्टर-टॉली आए हैं। वहीं निगम के अधिकारी भी दबी जुबान से ग्रामीण विधानसभा में कचरा वाहन न पहुंचाने की बात कहते नजर आए। ऐसे में निगम की सभी वार्डों में कचरा पहुंचे की बात झुठी साबित होती दिख रही है।

रिज़वान खान Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned