डायनेमिक प्राइजिंग ने लोगों को रुलाया, रोज बढ़ रहे पेट्रोल के दाम

डायनेमिक प्राइजिंग ने लोगों को रुलाया, रोज बढ़ रहे पेट्रोल के दाम

Rizwan Khan | Publish: Sep, 08 2018 06:55:23 PM (IST) Gwalior, Madhya Pradesh, India

पेट्रोल-डीजल के दामों पर गत वर्ष 16 जून को लागू की गई डायनेमिक प्राइजिंग (हर रोज दाम बदलना) आमजन के लिए परेशानी का सबब बनती जा

ग्वालियर . पेट्रोल-डीजल के दामों पर गत वर्ष 16 जून को लागू की गई डायनेमिक प्राइजिंग (हर रोज दाम बदलना) आमजन के लिए परेशानी का सबब बनती जा रही है। दोनों ही तरह के ईंधन के दाम हर दिन नए रिकार्ड कायम कर रहे हैं। शुक्रवार को शहर में पेट्रोल के दाम 85.66 रुपए और डीजल के दाम 75.87 रुपए प्रति लीटर के नए रिकॉर्ड स्तर पर थे। जिस दिन से डायनेमिक प्राइजिंग शुरू हुई उस दिन से अभी तक पेट्रोल 13.28 रुपए तो डीजल 14.78 रुपए प्रति लीटर की बढ़त बना चुका है। पेट्रोल के बढ़ते दामों ने जहां आम आदमी की जेब खर्च को बढ़ा दिया है वहीं डीजल के आसमान छूते दामों ने ट्रांसपोर्ट कारोबारियों को परेशान कर दिया है। लगातार बढ़ते दामों के कारण शहर के बड़े ट्रांसपोर्ट कारोबारियों ने 20 फीसदी गाडिय़ों को ट्रांसपोर्ट नगर में खड़ा कर दिया है।


ऐसे परेशानी बन रही डायनेमिक प्राइजिंग
- पिछले साल 16 जून को पेट्रोल के दाम 72.38 रुपए लीटर
- पिछले साल 16 जून को डीजल के दाम 61.09 रुपए लीटर
- 1 जनवरी 2018 को पेट्रोल के दाम 74.75 रुपए लीटर
- 1 जनवरी 2018 को डीजल के दाम 62.23 रुपए लीटर
- पिछले साल 16 जून से अब तक पेट्रोल में 13.28 रुपए और डीजल में 14.78 रुपए प्रति लीटर की तेजी
- 1 जनवरी 2018 से अब तक पेट्रोल में 10.91 रुपए तथा डीजल में 13.64 रुपए लीटर की बढ़ोतरी।


फैक्ट फाइल
- शहरी सीमा में पेेट्रोल पंपों की संख्या 65।
- शहरी सीमा में ऑटोमेटेड पेट्रोल पंप की संख्या 20।
- रोजाना पेट्रोल की खपत तीन लाख लीटर।
- रोजाना डीजल की खपत चार लाख लीटर।


सरकार करे तेल कंपनियों पर नियंत्रण
हर रोज पेट्रोल-डीजल के दाम बदलने से साल भर में ये हाल हो गया है। सरकार को तेल कंपनियों पर नियंत्रण करना चाहिए। पेट्रोल के दाम बढऩे से एक ओर जहां आमजन को परेशानी हो रही है वहीं डीजल के दामों में लगातार हो रही तेजी से इसकी बिक्री में लगातार गिरावट देखी जा रही है।
- दीपक सचेती, संरक्षक, ग्वालियर पेट्रोलियम डीलर्स ऐसोसिएशन


वाहनों को खड़ा कर दिया है
डीजल के दाम लगातार बढ़ते जा रहे हैं। दाम बढऩे का असर ट्रांसपोर्ट कारोबार पर हो रहा है। मालभाड़े में बढ़ोतरी इसलिए नहीं की जा रही है क्योंकि माल भेजने वाले इसका विरोध करते हैं। ऐसे में बड़े ट्रांसपोर्ट कारोबारियों ने अपने वाहनों को ट्रांसपोर्ट नगर में खड़ा कर दिया है।
- लेखराज रावल, अध्यक्ष, ग्वालियर गुड्स ट्रांसपोर्ट ऐसोसिएशन


गाड़ी चलाना बंद करना पड़ेगा
जिस तरह से हर रोज पेट्रोल के दाम बढ़ाए जा रहे हैं उसे देखते हुए लगता है कि गाड़ी चलाना ही बंद करना पड़ेगा। पता नहीं सरकार क्या चाहती है। इससे तो पहले ही ठीक था जब महीने भर में दाम बदलते थे। दामों में इतनी बढ़ोतरी होने के बाद भी सभी चुपचाप बैठे हैं।
- देवेन्द्र गोयल, निवासी त्यागी नगर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned