नौकरी से घर लौटते वक्त इंजीनियर की मौत, एकलौते बेटे की मौत से सदमें में बूढ़े माता-पिता

engineer death at sheetla mata mandir shivpuri highway in gwalior : उनकी बात का संतुलन बिगडऩे के पुलिया से नीचे आ गिरे। जिसमें एक युवक की मौत हो गई और दूसरे का अस्पताल में इलाज जारी है।

By: Gaurav Sen

Published: 10 May 2020, 02:02 PM IST

ग्वालियर. नौकरी करके घर लौटते वक्त एक युवा इंजीनियर की मौत हो गई। वह अपने एक साथी के साथ नौकरी करके घर वापस लौट रहा था। उनकी बात का संतुलन बिगडऩे के पुलिया से नीचे आ गिरे। जिसमें एक युवक की मौत हो गई और दूसरे का अस्पताल में इलाज जारी है। मामला शहर से बाहर शीतला माता मंदिर रोड का है। जिसमें संतोष राजौरिया नाम के युवक की मौत हो गई है।

जानकारी के अनुसार सुदामापुरी निवासी संतोष राजोरिया (४०) की सड़क हादसे में मौत हो गई है। वे श्योपुर के विजयपुर में प्राइवेट कंपनी में साइट इंजीनियर हैं। संतोष अपने साथी इंजीनियर अंशुल के साथ साइट के लौटकर ग्वालियर की ओर आ रहे थे। तभी उनकी बाइक शीतला माता मंदिर के पास खंती में जा गिरी। जिसमें संतोष की मौके पर ही मौत हो गई। घायल अवस्था में अंशुल ने परिवार वालों को जानकारी दी। पुलिस सहित परिवार वाले दोनों को ४ घण्टे तक ढूंडते रहे लेकिन काफी मशक्कत के बाद दोनों को ढूूूंढ सके। अंशुल को तुरंत अस्पताल पहुंचाया। संतोष को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। झांसी रोड थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है।

संतोष थे एकलौती संतान
घटना में मृत हुए संतोष राजोरिया अपने माता-पिता की एकलौती संतान थे। ८ साल पहले संतोष की शादी हुई थी उनके दो छोटे-छोटे बेटे हैं। पत्नी अपनी पति की मौत की खबर सुनते ही बेहोश हो गई। सतोष के पिता आबकारी विभाग से रिटायर हैं।

हादसों में हुई बढ़ोतरी
लॉकडाउन के चलते गाडिय़ां बंद थी कुछ दिनों तक जिसके चलते सड़क हादसों में कमी थी। लेकिन जब से थोड़ी छूट मिलना शुरू हुई है एकाएक हादसे बड़ गए हैं।

Gaurav Sen Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned