जिगरी दोस्त से बोला छात्र , जल्दी आ जा वरना फांसी लगा लूंगा मगर दोस्त के पहुंचने से पहले उठा लिया ये खौफनाक कदम

shyamendra parihar

Publish: Sep, 16 2017 04:39:40 (IST)

Gwalior, Madhya Pradesh, India
जिगरी दोस्त से बोला छात्र , जल्दी आ जा वरना फांसी लगा लूंगा मगर दोस्त के पहुंचने से पहले उठा लिया ये खौफनाक कदम

जिगरी दोस्त से मोबाइल पर कहा गोपाल जल्दी आ जा वरना मैं फांसी लगा लूंगा। दोस्त के पहुंचने से पहले ही वह तौलिए पर झूल गया।

ग्वालियर/दतिया। जिगरी दोस्त से मोबाइल पर कहा गोपाल जल्दी आ जा वरना मैं फांसी लगा लूंगा। दोस्त के पहुंचने से पहले ही वह तौलिए पर झूल गया। मृतक दिल्ली में एक निजी कॉलेज से इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था वह करीब एक महीने पहले ही दतिया स्थित अपने घर पर छुटिट्यां मनाने आया हुआ था।

 

MUST READ : महिला बोली, वो कहते हैं कि हमने तुम्हारी नौकरी लगवाई है इसलिए मेरे साथ सोना होगा, महिला के आरोप होश उड़ा देंगे

 

घटना कोतवाली थाना क्षेत्र के मुडिय़न के कुआं क्षेत्र की है। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुडिय़न का कुआं निवासी सागर (19) पुत्र महेश योगी दिल्ली में बड़े भाई के पास रहकर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा था। वह एक महीने पहले ही घर आया था।

शुक्रवार की सुबह उसने अपने एक दोस्त गोपाल पंडा को फोन लगाया और कहा जल्दी आ जा मैं फांसी लगा रहा हूं। दूसरी तरफ से गोपाल ने कहा मैं थोड़ी देर में पहुंच जाउंगा पर फांसी मत लगाना। गोपाल करीब 20 मिनट बाद उसके घर पहुंचा तो पाया कि मेन दरवाजा अटका हुआ है। उसने घर पहुंचकर कई बार फोन लगाया पर नहीं उठाया तो वह घर के अंदर पहुंच गया।

 

MUST READ :  ब्लूव्हेल गेम के चलते 11वीं के छात्र ने लगाई फांसी! हाथ पर मिले ये निशान, खबर हिला कर रख देगी

 

उसने देखा कि सागर का शरीर पंखे के कुंदे से तौलिए पर झूल रहा है। पुलिस द्वारा पूछताछ में पता चला कि वारदात के वक्त बड़ा भाई मनीष व मां दिल्ली में थे जबकि उसकी बहन कोचिंग पढऩे के लिए गई थी। पिता दुकान पर थे। कोतवाली के एएसआई विवेचना अधिकारी सरदार नरेन्द्र सिंह के मुताबिक अभी तक आत्महत्या की वजह पता नहीं चल सका है।

11 वीं का छात्र झूला फांसी पर
कोतवाली थाना क्षेत्र के पांडेय के बाग में रहने वाले 11 वीं के छात्र ने अज्ञात कारणों के चलते मौत को गले लगा लिया। उसने अपने घर पर पंखे के कुंदे पर दुपट्टा से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह शहर के एक निजी स्कल में पढ़ता था। कोतवाली पुलिस के मुताबिक मूलत: रिछार गांव का रहने वाले किसान केशव दांगी के 17 वर्षीय बेटा शिवम घर पर ही था । वह अपने दादा-दादी के पास यहां रहता था । गुरुवार की देर रात उसने फांसी लगा ली।

 

MUST READ : फोटो में दिख रहे बच्चों की दर्द भरी कहानी सुनकर आप भी रो देंगे, दुखों के बीच बसर हो रही है जिंदगी

 

परिजनों ने सुबह मामले की सूचना पुलिस को दी है। उसके शरीर पर चोटों के कुछ निशान पुलिस को मिले थे। वह मोबाइल पर गेम खेलता था। हालांकि शव के पोस्टमार्टम के बाद डॉक्टर ने इन चोटों को पुराना बताया।
दिन भर चर्चाओं का बाजार गर्म रहा कि ब्लू व्हेल गेम से जुड़ा है पर डॉक्टरों व पुलिस ने इसे खारिज करते हुए फिलहाल इसे अज्ञात कारणों से आत्महत्या बताया है। हालांकि उसका शहर में मोबाइल नहीं खोला जा सका इसलिए डिवाइस की जांच के लिए भोपाल भेजा जा रहा है। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले की जांच शुरू कर दी है।


दिन भर में हुईं तीन खुदकुशी
ताबड़तोड़ हुई वारदातों से न केवल पुलिस चकरघिन्नी रही बल्कि शहर में भी चर्चाओं का बाजार गर्म रहा। दो छात्रों ने फांसी लगा कर जान दे दी वहीं कर्ज से तंग एक सराफा व्यवसायी ने सल्फास खाकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। सभी मामलों में मर्ग कायम कर लिए गए हैं। तफ्तीश शुरू हो गई है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned