देशभर में 7000 से अधिक बच्चों को बना चुकीं निपुण

स्ट्रगल हर एक की लाइफ में होता है। मेरी भी लाइफ में रहा। लेकिन न्यू जनरेशन को अधिक स्ट्रगल न करना पड़े। इसके लिए मैं देशभर में घूमकर बच्चों को नि:शुल्क शास्त्रीय नृत्य की शिक्षा दे रही हूं। मुझसे सीखे हुए कई बच्चे आज अच्छी पोजीशन पर पहुंच चुके हैं। यह कहना है प्रख्यात कथक नृत्यांगना डॉ. रागिनी मक्कड़ का।

By: Harish kushwah

Published: 10 Jan 2019, 07:10 PM IST

ग्वालियर. स्ट्रगल हर एक की लाइफ में होता है। मेरी भी लाइफ में रहा। लेकिन न्यू जनरेशन को अधिक स्ट्रगल न करना पड़े। इसके लिए मैं देशभर में घूमकर बच्चों को नि:शुल्क शास्त्रीय नृत्य की शिक्षा दे रही हूं। मुझसे सीखे हुए कई बच्चे आज अच्छी पोजीशन पर पहुंच चुके हैं। यह कहना है प्रख्यात कथक नृत्यांगना डॉ. रागिनी मक्कड़ का, जो प्रेस्टीज इंस्टीट्यूट और आइडीटी मैनेजमेंट द्वारा आयोजित टैलेंट ऑफ इंडिया के लिए प्रतिभाओं को ट्रेंड करने ग्वालियर आई हैं। उन्होंने बताया कि अभी तक मैं देशभर में 7000 से अधिक बच्चों को ट्रेंड कर चुकी हूं। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि शहर में होने वाले उद्भव उत्सव में हमारे बच्चे आ चुके हैं, वे ग्वालियर के बारे में बहुत कुछ बताया करते थे। तभी से मेरी आने की इच्छा र्थी।

पेशेंस से मिलेगी सफलता

आज की युवा जनरेशन से मैं यही कहना चाहूंगी कॉम्पीटिशन हर जगह है। ऐसे में जरूरी है पेशेंस की। जो लोग अपना पेशेंस खो देते हैं वे रास्ता भटक जाते हैं। कथक एक साधना है, जिसका फल कलाकार को वर्षों बाद मिल पाता है। जिससे कलाकार को बाद में काफी फायदा मिलेगा।

टैलेंट ऑफ इंडिया में पार्टिसिपेंट्स के साथ डॉ. मक्कड़ भी करेंगी परफॉर्म

प्रेस्टीज प्रबंधन संस्थान और आइडीटी इंवेट मैनेजमेंट एवं डांस अकादमी के संयुक्त तत्वाधान में पांच दिवसीय कथक कार्यशाला का आयोजन बुधवार से सिटी सेंटर स्थित एक निजी होटल में किया जा रहा है। इस अवसर पर कथक नृत्यांगना डॉ. रागिनी मक्कड़ पार्टिसिपेंट्स को क्लासिकल की बारीकियां सिखाएंगी। 13 जनवरी को ग्वालियर व्यापार मेला में टैलेंट ऑफ इंडिया आयोजन होगा। यह जानकारी प्रेस्टीज के डायरेक्टर एसएस भाकर ने मीडिया को दी। सोनू धौलकर ने बताया कि पार्टिसिपेंट्स की ट्रेनिंग शुरू हो चुकी है। 13 जनवरी को इसका ग्रांड फिनाले होगा, जिसमें विनर्स का चयन किया जाएगा। साथ ही डॉ. मक्कड़ की परफॉर्मेंस आकर्षण का केन्द्र रहेगी।

Harish kushwah
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned