मेला प्राधिकरण निजी कंपनी से चलवाएगा टॉय ट्रेन

अब मेले में रेलवे नहीं चलाएगा बाल रेल: हादसा होने से तीन साल से बंद है ट्रेन

ग्वालियर. ग्वालियर व्यापार मेले में रेलवे की ओर से चलाई जाने वाली बाल रेल अब नहीं चलेगी। पिछले तीन वर्ष से इसका संचालन बंद है। यहां लगी पटरियों को भी जल्द ही रेलवे की ओर से हटा लिया जाएगा। रेलवे की ओर से मेले में चलाई जाने वाली बाल रेल की जगह को खाली करने के लिए मेला प्राधिकरण की ओर से पत्र लिखे गए थे, जिसके जवाब में डीआरएम ने यहां पटरियां हटाने की कॉपी मेला प्राधिकरण को भेज दी है। वहीं मेला प्राधिकरण इस साल के मेले में इसी जगह पर टॉय ट्रेन चलाने की प्लानिंग कर रहा है जिसके लिए दिल्ली और गुडग़ांव की कंपनियों से संपर्क साधा गया है।
तीन वर्ष पूर्व हुआ था हादसा
रेलवे की ओर से मेले में कई वर्षों से बाल रेल का संचालन किया जा रहा था। तीन वर्ष पूर्व यहां रेल चलने के दौरान एक बच्चे के साथ हादसा घटित हो गया था, तभी से यहां बाल रेल का संचालन बंद है।
1077 दुकानों के आवेदन आए
ग्वालियर व्यापार मेला प्राधिकरण मेले की तैयारियों में जुटा हुआ है। यहां बनी पुरानी 1300 दुकानों के लिए अभी तक 1077 आवेदन प्राप्त हो चुके हैं। पुरानी दुकानों के आवंटन के लिए पांच तारीख तय की गयी थी। इसके बाद नई दुकानों के लिए आवंटन की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गयी है। इसके लिए भी अभी तक 250 से अधिक आवेदन मिल चुके हैं। इनका आवंटन बुधवार के बाद किया जाएगा।
सवा लाख वर्ग फीट में जमीन
मेले में चलने वाली बाल रेल के लिए मेला प्राधिकरण की ओर से करीब सवा लाख वर्ग फीट जमीन दी गई थी। यहां बाल रेल का रेलवे ट्रैक, प्लेटफॉर्म, प्रदर्शनी सेक्टर सहित दो शेड भी बने हुए हैं।

राजेंद्र ठाकुर
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned