खाद की किल्लत: नाराज किसान सड़कों पर

तीन दिन में दूसरी बार सड़क की जाम

By: Vikash Tripathi

Published: 11 Oct 2021, 11:35 PM IST

भिण्ड. जिले में डीएपी व यूरिया की किल्लत कम होती नजर नहीं आ रही बल्कि समस्या विकराल होती जा रही है। 11 अक्टूबर की दोपहर न केवल भिण्ड शहर के बायपास मार्ग पर किसान सड़क पर लेट गया बल्कि अन्य किसानों ने चक्का जाम कर दिया। वहीं मेहगांव में एनएच-719 पर भी किसानों ने जाम लगाया। उधर लहार में भिण्ड-भाण्डेर मार्ग पर खाद नहीं मिलने से किसानों ने एकत्र होकर वाहनों का आवागमन रोक दिया।
बोवनी का समय खत्म होने में चार दिन शेष हैं और किसान अभी अपने खेतों में यूरिया व डीएपी के अभाव के चलते 20 फीसद बोवनी भी नहीं कर पाए हैं। ऐसे में खाद के लिए किसानों का आक्रोश सड़कों पर नजर आने लगा है।11 अक्टूबर की दोपहर कृषि उपज मंडी भिण्ड में खाद के लिए कतारबद्ध बड़ी संख्या में किसानों को गुस्सा उस समय फूट पड़ा जब अटेर क्षेत्र के ग्राम कमई निवासी बुजुर्ग कृषक कतार में खड़े-खड़े बेहोश होकर गिर गया। ऐसे में एक किसान वायपास मार्ग पर पहुंचकर लेट गया और बाद में अन्य किसानों ने वायपास पर चक्का जाम कर दिया। किसानों द्वारा जाम लगाए जाने की सूचना पर थाना प्रभारी देहात रामबाबू यादव व तहसीलदार आदि ने पहुंचकर किसानों को समझाइश देकर जाम खुलवाया। बावजूद इसके करीब एक घंटे से अधिक समय तक वाहनों के पहिए थमे रहे।

Vikash Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned