बिना उद्घाटन के फुट ओवर ब्रिज कभी चालू कभी बंद

शहर की जनता के लिए पहली बार लिफ्ट वाले पैदल पुल (फुट ओवर ब्रिज) का निर्माण तो करा दिया गया है, लेकिन पैदल पुल पर चढऩे और उतरने के लिए लगवाई गईं लिफ्ट आए दिन बंद हो जाती है।

ग्वालियर. पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप (पीपीपी) योजना के तहत आकाशवाणी चौराहे पैदल पुल (फुट ओवर ब्रिज) का निर्माण कराया गया है। जिसका निर्माण कार्य पायोनियर एडवरटाइजमेंट कंपनी से कराए जाने के बाद से ही इसका शुभारंभ की प्रक्रिया होनी थी, लेकिन किन्हीं कारणों के चलते शुभारंभ की प्रक्रिया अटक गई है। शहर की जनता के लिए पहली बार लिफ्ट वाले पैदल पुल (फुट ओवर ब्रिज) का निर्माण तो करा दिया गया है, लेकिन आकाशवाणी चौराहे पर लिफ्ट वाले पैदल पुल की सुविधा मिलने से पहले ही बंद होते हुए दिख रही है। क्योंकि पैदल पुल पर चढऩे और उतरने के लिए लगवाई गईं लिफ्ट आए दिन बंद हो जाती है। जिसके चलते ही लोगों को पुल पर लगी लिफ्ट की सुविधा नहीं मिल पा रही है और उन्हें पुल पार करने के लिए सीढिय़ां चढ़ती पड़ती है। जिससे खास तौर पर दिव्यांगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

अहम बात तो यह है कि कुछ दिनों पहले होने वाले पुल का शुभारंभ भी टल गया है, ऐसे में पुल की एक लिफ्ट चालू रहती है तो दूसरी अक्सर बंद हो जाती है। पुल और लिफ्ट के नियमित संचालन को लेकर जिम्मेदार अधिकारी चुप्पी साधे हैं।
आकाशवाणी चौराहे पर यह पैदल पुल आमजन की सुविधा के लिए बनवाया गया है, 45.5 मीटर चौड़ाई वाले इस पुल में दो लिफ्ट लगवाई गईं हैं। जिनका रात 11 बजे तक संचालन होना है। इन लिफ्ट में एक साथ 8 लोगों को सवार होकर पुल पर उतरने और चढऩे की सुविधा की व्यवस्था की गई है। जिससे शहरवासियों को सडक़ पार नहीं करना पड़ेगी।

करीब दो करोड़ की लागत से बनवाए गए इस पैदल पुल पर लगी लिफ्ट के हालात अभी से ही बदहाली की ओर अग्रसर होने लगे हैं, जिससे शहर के अन्य प्रोजेक्टों में शामिल यह प्रोजेक्ट भी भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ रहा है, जबकि आकाशवाणी चौराहे से रोजाना ही सुबह से देर रात तक काफी संख्या में पैदल राहगीरों का निकलना होता है। ऐसे में पैदल राहगीर सडक़ दुर्घटनाओं से बचकर सुरक्षित रहकर पुल पार कर सकें, इसके लिए ही पुल का निर्माण कराया गया है और पुल चढऩे उतरने में लोगों को परेशानी न हो, इसके लिए लिफ्ट भी लगवाई गई हैं। लेकिन इस पैदल पुल पर लगवाई गई लिफ्ट का नियमित संचालन नहीं होने के कारण पुल पर लगी लिफ्ट आए दिन अनुपयोगी साबित होते हुए दिख रही हैं। जिसके संबंध में जिम्मेदार अधिकारियों द्वारा अभी तक कोई प्रयास नहीं किए गए हैं।
- पुल पर लगी लिफ्ट को ट्रायल के दौरान चालू कराया गया था, लेकिन अभी किन्हीं कारणों के चलते शुभारंभ टल गया है। पुल के शुभारंभ के साथ ही लिफ्ट का भी नियमित संचालन कराया जाएगा।
प्रेम पचौरी, कलस्टर अधिकारी, नगर निगम

राजेश श्रीवास्तव
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned