scriptFraud in the business of trust, 2.19 crore people cheated in 16 days | भरोसे के कारोबार में भी धोखाधड़ी, 16 दिन में लोगों से 2.19 करोड़ ठगे | Patrika News

भरोसे के कारोबार में भी धोखाधड़ी, 16 दिन में लोगों से 2.19 करोड़ ठगे

पुलिस के पास लगातार आ रही शिकायतें

ग्वालियर

Published: February 17, 2022 06:35:52 pm

ग्वालियर. हुंडी के नाम पर शहर के कारोबारियों का 70 करोड़ रुपए हड़प चुका हुंडी दलाल आशीष गुप्ता पूरा पैसा डकार कर जेल में है। उसके झांसे में आकर पैसा गंवा चुके कारोबारी रकम वापसी का तरीका नहीं ढूंढ पा रहे हैं। पुलिस ने भी उन्हें टका जवाब दे दिया है ठगी करने वाले को पुलिस जेल भेज सकती है। उससे पैसा वसूल करने का तरीका उसके पास नहीं है। लोगों को भरोसे में लेकर ठगने का खेल यही तक सीमित नहीं है। बल्कि जमीन, इनाम और कारोबार में साझेदारी का लालच देकर ठगी का खेल जारी है।
पिछले 16 दिन में ठगों ने नए पैंतरे इस्तेमाल कर 2 करोड़ 18 लाख 75 हजार रुपए की ठगी की है। सभी शिकायतें पुलिस के सामने आई हैं, लेकिन ठगी करने वाले उसकी पकड़ से बाहर हैं। पुलिस की दलील है ठगी करने वाले प्लानिंग से अपराध करते हैं। इन वारदातों को रोका जा सकता है अगर झांसे में आने वाले लालच में नहीं फंसे। ठगी करने वालों पर शिकंजा कसने के लिए पुलिस फरेब साबित करने जांच में जुर्म साबित करना होता है। ज्यादातर ठग सीधे तौर पर सामने नहीं आते। ठगी की रकम को इधर उधर घुमाकर हड़पते हैं, इसलिए ठगी करने वालों की गर्दन पकडऩे के लिए पुलिस को भी भटकना पड़ता है।
पुलिस रिकॉर्ड के मुताबिक शहर में जमीन, मकान के सौदेबाजी के नाम पर ठगी का खेल चल रहा है। झांसा देने वालों को पता होता है लोग अपना मकान बनाना चाहते हैं, इसलिए सस्ते दर पर मकान या जमीन मुहैया कराने का लालच देकर लोगों को फंसाते हैं। यहां सौदा करने वालों की लापरवाही यह होती है कि थोड़ा लालच देखकर जमीन या मकान खरीदने वाले जांच पड़ताल करने की बजाय सस्ती कीमत देखकर ठगों की बातों में आकर उन्हें पैसा थमाते हैं। जब पैसा डूबता है तब पुलिस से शिकवा शिकायत करते हैं, लेकिन तब तक ठग पैसा हजम कर गायब हो चुके होते हैं।
भरोसे के कारोबार में भी धोखाधड़ी, 16 दिन में लोगों से 2.19 करोड़ ठगे
भरोसे के कारोबार में भी धोखाधड़ी, 16 दिन में लोगों से 2.19 करोड़ ठगे
इनके साथ ठगी
13 फरवरी- 32 छात्रों की फीस का 2.5 लाख रुपया हड़पा।
9 फरवरी-
बिका हुआ प्लाट बेचकर रिटायर्ड फूड अफसर मुन्नालाल अग्रवाल से 1.25 लाख की ठगी।
7 फरवरी - वेयर हाउस निर्माण कराया फर्म संचालक धर्मेन्द्र से 2.5 लाख ठगे।
6 फरवरी- महिन्द्रा फाइनेंस से कार फाइनेंस कराकर बेची 12 लाख ठगे।
2 फरवरी- पेटीएम कंपनी इनाम देगी झांसा देकर राजकुमार शर्मा माधौगंज से 50 हजार ठगे।
31 जनवरी- देवर जेठ को मरा बताकर शोभा सरनोवत और राजकुमार ढपले ने 2 करोड़ ठगे।
भरोसे में दगा
पुलिस के मुताबिक ठगी की ज्यादातर शिकायतों में सामने आया है कि ठगी करने वालों ने भरोसे में मुनाफे का लालच देकर धोखा दिया। खास बात है ठगे गए लोग धोखा देने वालों की सिर्फ बात पर भरोसा करते रहे। यह तक पता नहीं किया उन्हें दगा देने वालों का बैकग्राउंड क्या रहा है। उनका पता ठिकाना क्या है।
संगीन अपराध की जगह ठगी का तरीका अपना रहे हैं अपराधी
'अपराध का तरीका बदल रहा है, संगीन अपराधों के अलावा लोगों को ठगने का ट्रेंड भी अपराधी अपना रहे हैं। अपराधियों को पता होता है संगीन अपराध में पकड़े जाने पर कार्रवाई भी कड़ी होगी।'
राजेश दंडौतिया, एएसपी क्राइम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.