script रात 1 बजे मजदूर दंपती की कनपटी पर ताना तंमचा, दोस्तों ने किया नाबालिग से गैंगरेप | Gang rape of 15 year old daughter in gwalior | Patrika News

रात 1 बजे मजदूर दंपती की कनपटी पर ताना तंमचा, दोस्तों ने किया नाबालिग से गैंगरेप

locationग्वालियरPublished: Feb 02, 2024 09:37:54 am

Submitted by:

Ashtha Awasthi

-पीड़िता का पड़ोसी दरिंदगी का मास्टरमाइंड, खदान मालिक का बेटा बलात्कारियों में शामिल

img_1674892635521_809.jpg
Gang rape

ग्वालियर। मजदूर दंपती की कनपटी पर तमंचा रखकर उनकी 15 साल की बेटी से गैंगरेप डकैत गुड्डा गुर्जर के गुर्गे और उसके दोस्त आकाश गुर्जर और संजीव गुर्जर ने किया था। वारदात का मास्टरमाइंड पीडि़ता का पड़ोसी बंटी गुर्जर था। तीनों को बंटी ही नाबालिग के घर लाया था। खुद दूर हट गया। गुरुवार को गैंगरेप के तीन आरोपियों को पुलिस ने दबोच लिया। डकैत गुडडा का साथी पकड़ से बाहर है।

गैंगरेप के आरोपियों ने दहलाने वाला खुलासा किया मंगलवार शाम को हवस मिटाने निकले थे। प्लान था मजदूरों की बस्ती में जो महिला, लडक़ी मिलेगी उसका बलात्कार करेंगे। नाबालिग को पकडऩे से पहले एक महिला के घर गए थे। वहां मौका नहीं मिला। रात एक बजे लड़ाई भाई को लघुशंका कराने बाहर निकली तो उसे पकड़ लिया। भाई, बहन ने शोर मचाया उनके माता पिता निकल आए। डकैत साथी ने उनकी कनपटी पर तमंचा रखा। संजीव और आकाश लडक़ी को खींचकर झोंपडी में ले गए। वहां उसके साथ गैंगरेप किया।

मददगार बनकर नाटक करता रहा पड़ोसी

पुलिस ने बताया तीनों वहशियों को नाबालिग के घर भेजकर बंटी गुर्जर वहां से तो खिसक गया। पीडि़ता, उसके माता पिता मदद के लिए चिल्लाए तब बंटी गुर्जर मददगार बनकर पहुंच गया। तीनों वहशियों से लड?ी को छोडऩे की गुहार का नाटक करता रहा। तीनों बलात्कारियों के भागने के बाद बंटी ने पीडि़ता और उसके परिवार को बदनामी का हवाला देकर चुप रखने की कोशिश की।

ऐसे पहचान, दबोचे गए आरोपी

पुलिस ने बताया मजदूर परिवार खदान पर काम करने के लिए करीब डेढ़, दो महीने पहले ही भंवरपुरा में आया है। गांव में उनका ज्यादा मेलजोल नहीं है। गैंगरेप करने वाले कौन थे पीडि़ता और उसके माता पिता नहीं बता पाए। आरोपियों की पहचान के लिए गांव में लोगों को खंगाला तो पता चला मंगलवार रात को संजीव गुर्जर और आकाश गुर्जर निवासी डांग चराई (घाटीगांव) और डकैत का साथी (मुरैना) बंटी के घर आए थे। बंटी के साथ तीनों बाइक लेकर गांव में घूमे थे। इनपुट पर बंटी को उठाया तो उसने राज खोल दिया।

बोला मेरी नजर थी

गैंगरेप के मास्टरमाइंड बंटी गुर्जर ने खुलासा किया पीडि़ता के माता पिता जिस खदान पर काम करते हैं वह आकाश के पिता की है। इसलिए आकाश और उसकी दोनों की नजर लडक़ी पर थी। मंगलवार को तीनों दोस्तों ने आकर महिला का इंतजाम करने को कहा तो मजदूर परिवार सबसे कमजोर कड़ी नजर आया। इसलिए तीनों को दंरिंदगी के लिए वहां छोड़ दिया। उस पर शक नहीं हो इसलिए परिवार की मदद का नाटक किया। प्लान था हमदर्द बनकर वह भी लडकी का शारीरिक शोषण करेगा।

डकैत गुडडा का गुर्गा, जघन्य अपराध

गैंगरेप में शामिल डकैत गुड्डा गुर्जर के साथी की बहन की ससुराल डांग चराई में है। इसलिए डकैत का यहां आना जाना रहा है। डकैत गुड्डा गैंग के मूवमेंट के दौरान बंटी गुर्जर की भी उससे दोस्ती हुई थी। बंटी गिरोह का स्पीलर सेल था। उसके जरिए डकैत गिरोह भंवरपुरा में पुलिस के मूवमेंट और दूसरी गतिविधियों की जानकारी लेता था।

वहशीपन की साजिश बनाकर निकले थे, आरोप

मजदूर को गनप्वाइंट पर रखकर उनकी नाबालिग बेटी से गैंगरेप के तीन आरोपियों को पकड़ा है। एक आरोपी कुख्यात डकैत गुड्डा गुर्जर गैंग का मेंबर रहा है। वह पकड़ से बाहर है। उसकी तलाश में पुलिस की टीम लगी हैं।- ऋषिकेश मीणा प्रभारी एसपी ग्वालियर

ट्रेंडिंग वीडियो