गैंगस्टर को अस्पताल से बिस्तर से जेल भेजा

तीन दिन से अस्पताल के बिस्तर पर फरमा रहा था आराम

पुनीत श्रीवास्तव@ग्वालियर। गैंगस्टर परमाल तोमर को जेएएच के कैदी वार्ड से उठाकर पुलिस ने जेल भेज दिया है। गुंडा परमाल ३ दिन तक अस्पताल में था ९ पुलिसकर्मी उसकी पहरेदारी में थे। बुधवार को पुरानी छावनी पुलिस उसे बिस्तर उठाकर अदालत ले गई। फिर उसे जेल भेज दिया।

अब जेल के अस्पताल में डॉक्टर उसके पैर में पुलिस की दो गोलियों से हुए घाव का इलाज करेंंगे। जेल भेजने से पहले पुलिस ने उससे पूछताछ की औपचारिकता भी पूरी की।उससे पुलिस उन दो गुंडों के नाम नहीं उलगवा पाई जो शनिवार तडक़े शार्ट एनकाउंटर में पुलिस को चकमा देकर भाग गए थे। उधर पुरानी छावनी टीआइ राजीव गुप्ता का कहना है गुंडे परमाल ने खुलासा किया जिस ९ एमएम और ३२ बोर की पिस्टल से उसने पुलिस पर गोली चलाई थीं दोनों पिस्टल , कारतूस उसे यूपी के गैंगस्टर सोनू गौतम ने दिए थे।
हजीरा पुलिस लेगी रिमांड पर
प्रॉपर्टी कारोबारी पंकज सिकरवार की हत्या में गैंगस्टर परमाल तोमर से पूछताछ होना बाकी है। इसलिए अब हजीरा पुलिस उसे जेल से रिमांड पर लाएगी। हजीरा टीआइ आलोक सिंह परिहार का कहना है कुछ दिन में गुंडे परमाल के पैर में पुलिस की गोलियों के जख्म भर जाएंगे।

तब उसे पूछताछ के लिए जेल से निकाला जाएगा। उधर पकंज के परिजनों ने पुलिस से कहा है कि गुंडे परमाल और उसकी गैंग को मदद करने वाले सभी लोगों को भी सामने लाया जाए। इनमें राजनीति और शराब कारोबार से जुडे लोग भी शामिल हैं। इन लोगों को बख्शा नहीं जाना चाहिए। गुंडे परमाल को पनाह और पैसा मुहैया कराने में नाम सामने आने पर पुलिस मुरार के शराब कारोबारी की तलाश मे हैं। घेराबंदी की भनक लगने पर कारोबारी अंडरग्राउंड हो गया है।

Puneet Shriwastav
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned