scriptGarbage fee being charged on property in three metros whereas in Gwali | तीन महानगरों में संपत्ति पर वसूला जा रहा गारबेज शुल्क जबकि ग्वालियर में संपत्ति के आकार से दरें की गई हैं प्रस्तावित | Patrika News

तीन महानगरों में संपत्ति पर वसूला जा रहा गारबेज शुल्क जबकि ग्वालियर में संपत्ति के आकार से दरें की गई हैं प्रस्तावित

- नगर निगम को गारबेज शुल्क पर सौंपे जाने वाले मांग पत्र को लेकर चैंबर में हुई बैठक

ग्वालियर

Published: January 16, 2022 11:15:30 am

ग्वालियर. मप्र चैंबर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री (एमपीसीसीआइ) की ओर से नगर निगम को गारबेज शुल्क सौंपे जाने वाले मांग पत्र पर शनिवार की शाम चैंबर भवन में बैठक संपन्न हुई।
इसमें चैंबर अध्यक्ष विजय गोयल ने कहा कि चैंबर ने प्र्रदेश के इंदौर, भोपाल, जबलपुर की दरों का चार्ट बनाकर तुलनात्मक अध्ययन किया है। इसके बाद यह बैठक रखी गई है। उन्होंने औद्योगिक प्रतिनिधियों से आग्रह किया कि आप बैठक में तो अपने सुझाव रखें ही, साथ ही हमें लिखित में भी इन्हें भेजें ताकि निगम प्रशासन से की जाने वाली चर्चा में उसे शामिल किया जा सके। मानसेवी सचिव डॉ.प्रवीण अग्रवाल ने ग्वालियर में प्रचलित गारबेज शुल्क की दरों से तुलना करते हुए भोपाल, इंदौर और जबलपुर में प्रचलित दरों का विश्लेषण बताते हुए कहा कि इन महानगरों में आवासीय, गैर आवासीय और औद्योगिक केवल तीन श्रेणियों में गारबेज शुल्क वसूल किया जा रहा है और वह भी केवल सम्पत्ति पर, उसके आकार पर नहीं। जबकि ग्वालियर में सम्पत्ति के आकार के हिसाब से दरें प्रस्तावित की गई हैं, जो कि तीनों महानगरों की तुलना में अत्यधिक हैं। चर्चा उपरांत निर्णय लिया गया कि बैठक में आए सुझावों को समाहित करते हुए शीघ्र ही नगर निगम आयुक्त के साथ इस विषय पर बैठक करके इसमें व्याप्त विसंगतियों को दूर करने की मांग की जाएगी। बैठक में सभी मौजूद सभी लोगों ने कहा कि हमारा शहर ग्वालियर इंदौर, भोपाल और जबलपुर की तुलना में कम विकसित है और स्वच्छता में पीछे है इसके विपरीत हमसे गारबेज शुल्क अत्याधिक लिया जा रहा है और इसमें भी काफी विसंगतियां हैं। विसंगतियों पर निगम प्रशासन के साथ बैठक कर, चर्चा की जाना चाहिए और इसके बाद ही गारबेज के संबंध में निर्णय लिया जाना चाहिए। बैठक में चैंबर कोषाध्यक्ष वसंत अग्रवाल, लव कुमार गर्ग, शरद आहूजा, अशोक शर्मा, जगदीश मित्तल, सचदेव कंजानी, सोबरन सिंह तोमर आदि मौजूद थे।
तीन महानगरों में संपत्ति पर वसूला जा रहा गारबेज शुल्क जबकि ग्वालियर में संपत्ति के आकार से दरें की गई हैं प्रस्तावित
तीन महानगरों में संपत्ति पर वसूला जा रहा गारबेज शुल्क जबकि ग्वालियर में संपत्ति के आकार से दरें की गई हैं प्रस्तावित

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'SSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़पसचिन दिल्ली से जयपुर की फ्लाइट में बैठे और पहुंच गए अहमदाबाद, ऐसे हुआ गड़बड़झालाअमित शाह और IAS पूजा सिंहल की फोटो शेयर करने वाले फिल्ममेकर को कोर्ट से नहीं मिली राहतविधानसभा में बहस, Yogi ने अखिलेश को दिया जवाब '...लड़के हैं गलती हो जाती है'अखिलेश ने तय किया राज्यसभा के उम्मीदवारों का नाम, जल्द करेंगे नामांकनHoney Trap: पाकिस्तानी सेना का लव जेहाद, भारतीय जवानों के लिए बना फांस
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.