दूध निकालकर सडक़ों पर गाय छोडऩे वालों पर सरकार हुई सख्त, जल्द आ रहा है ये नियम

दूध निकालकर सडक़ों पर गाय छोडऩे वालों पर सरकार हुई सख्त, जल्द आ रहा है ये नियम
दूध निकालकर सडक़ों पर गाय छोडऩे वालों पर सरकार हुई सख्त, जल्द आ रहा है ये नियम

monu sahu | Publish: Sep, 19 2019 01:19:13 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

बोले पशुपालन मंत्री, डेढ़ साल बाद सडक़ व खेतों में नजर नहीं आएगा गौवंश,प्रदेश अध्यक्ष विवाद को परिवार की खींचतान बताया

ग्वालियर। जो लोग दूध निकालकर गायों को छोड़ देते हैं, ऐसे गौवंश की हम टेगिंग करवा रहे हैं। टेग लगी गाय दूसरी बार यदि मिली तो पशु मालिक को चेतावनी दी जाएगी तथा तीसरी बार मिलने पर पशुमालिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाएगी। यह बात बुधवार को शिवपुरी में एक दिवसीय दौरे पर आए प्रदेश के पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव ने मीडिया से चर्चा में कही। उन्होंने यह दावा भी किया आगामी डेढ़ साल के बाद गौवंश न तो सडक़ पर नजर आएगा और न ही खेतों में।

यह भी पढ़ें : साहब : हमको खुदाई में ढाई किलो सोना मिला है, आप चेक करा लो एकदम सही है

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को लेकर चल रही खींचतान के सवाल पर मंत्री ने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि यह कांग्रेस के परिवार का मामला है। पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव बुधवार को ग्वालियर से वाय रोड शिवपुरी पहुंचे और यहां सर्किट हाउस पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं से मुलाकात करने के बाद मीडिया से चर्चा में उन्होंने यह माना कि हाइवे पर बड़ी संख्या में गौवंश मर रहा है। मंत्री ने कहा कि गाय किसी बीमारी से नहीं मर रहीं, बल्कि वे वाहनों की टक्कर से तथा पन्नी खाने की वजह से मृत हो रही हैं।

यह भी पढ़ें : प्रदेश की 20 पंचायतों में ऑनलाइन बिलिंग की प्रक्रिया शुरू

प्रदेश में 10 लाख निराश्रित गौवंश है, जिसके लिए हमारी सरकार गौशालाएं बनाने जा रही है। जब मंत्री से पूछा कि सरकार के पास तो बजट ही नहीं है, फिर इतनी सारी गौशालाएं कैसे बनाएंगे?, अभी तो भूमिपूजन ही हुआ है?, इस पर मंत्री ने कहा कि यह सरकार के लिए चुनौती है, लेकिन मैं भरोसा दिला रहा हूं कि डेढ़ साल में यह काम पूरा कर लिया जाएगा तथा उसके बाद न निराश्रित गौवंश सडक़ पर दिखाई देगा और न खेतों में।

यह भी पढ़ें : सालों बाद नाग ने लिया बदला, अब तक आपने नहीं सुनी होगी ऐसी कहानी

Government Strict people leave cows on the roads

सिंधिया सर्वमान्य नेता, मैं कांग्रेस के साथ
पशुपालन मंत्री लाखन सिंह यादव से पूछा कि प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष की कुर्सी को लेकर नेता-विधायक एक-दूसरे पर गंभीर आरोप लगा रहे हैं और आप पर भी ऐसे आरोप लगाए गए। तो वे बोले कि मैं 20 साल से विधायक हूं और मेरे क्षेत्र में निकलने वाला पत्थर विदेशों तक जाता है, लेकिन मेरा न तो पत्थर उत्खनन में और न ही रेत उत्खनन से कोई जुड़ाव है। मैं जनता की सेवा के लिए राजनीति करता हूं।

उन्होंने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया सर्वमान्य नेता हैं और उनके नजदीकी लोग तो उन्हें ही प्रदेश अध्यक्ष के रूप में देखना चाहते हैं। जब उनसे पूछा कि आप किसे अध्यक्ष के रूप में देखना चाहते हैं?, तो मंत्री बोले कि मैं कांग्रेस के साथ हूं और जो हाईकमान का निर्णय होगा वो हमें मान्य होगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned