एसडीएम और तहसीलदार ने पहाड़ी के ऊपर बने आवासों में जाकर देखा तो कुछ लोग सोए हुए थे। इनमें से एक परिवार ने ऊपर मकान बना लिया था और सडक़ किनारे दुकान बना ली थी। इस परिवार का सामान रात में ही भरवाकर नगर निगम के प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत बने आवास में भिजवा दिया। बाकी के परिवारों को भी शिफ्ट किया जाएगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned