ग्वालियर संभाग का सबसे बड़ा अस्पताल लेकिन व्यवस्थाएं सबसे कम

ग्वालियर संभाग का सबसे बड़ा अस्पताल लेकिन व्यवस्थाएं सबसे कम

Rajesh Shrivastava | Publish: Jun, 16 2019 08:37:12 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

सबसे बड़े अस्पताल जेएएच में स्टे्रचर के लिए लोगों को परेशान होना पड़ता है। लिफ्ट का काम भी अभी तक पूरा नहीं हुआ है, इसलिए मरीजों को गोद में उठाकर या पीठ पर लादकर ऊपर की मंजिल पर स्थित वार्डों में ले जाना पड़ता है।

ग्वालियर. शहर में भीषण गर्मी से लोग परेशान हैं, ऐसे में अंचल के सबसे बड़े अस्पताल जेएएच में स्टे्रचर के लिए लोगों को परेशान होना पड़ता है। लिफ्ट का काम भी अभी तक पूरा नहीं हुआ है, इसलिए मरीजों को गोद में उठाकर या पीठ पर लादकर ऊपर की मंजिल पर स्थित वार्डों में ले जाना पड़ता है। इसके अलावा कई चिकित्सक बाहर से दवाएं मंगाते हैं, जिससे मरीजों की जेब पर अतिरिक्त भार पड़ता है। जबकि अस्पताल प्रशासन दवाएं मुफ्त देने की बात करता है। इसके साथ ही प्लास्टर, सर्जरी का सामान भी मरीजों को बाहर से ही खरीदकर लाना पड़ता है। इस संबंध में पत्रिका एक्सपोज ने जेएएच अधीक्षक डॉ. अशोक मिश्रा से बातचीत की।

? गर्मी में भी मरीजों को स्ट्रेचर नहीं मिलता है?
- अस्पताल में पर्याप्त स्टे्रचर हैं, कई बार लोग मरीज को लेकर जाते हैं और यहां-वहां स्ट्रेचर को छोड़ दिया जाता है, जिसके कारण परेशानी होती है। इस संबंध में दिशा निर्देश दिए हैं।
? अस्पताल में दवाओं की कमी है क्या?
- नहीं, अस्पताल में दवाओं की कोई कमी नहीं है। सभी दवाएं स्टोर से मरीजों को दी जा रही हैं।
? कई चिकित्सक मरीजों से बाजार से दवाएं मंगवा रहे हैं?
-अगर कोई चिकित्सक बाहर की दवाएं लिख रहा है तो पता कर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
?सर्जरी विभाग में दवाओं के साथ सर्जिकल सामान भी लाना पड़ता है।
- कोई भी मरीजों से बाहर से दवाएं नहीं मंगा सकता है। इस संबंध में पता कर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
? जेएएच में मरीजों को उतारने के लिए बहुत ही खतरनाक तरीके का इस्तेमाल किया जा रहा है?
- लिफ्ट का काम चल रहा है, इसके बनते ही इसे बंद कर दिया जाएगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned