पुल उतरते ही वाहनों के लिए खतरा बनकर खड़े यह पेड़

पुल उतरते ही वाहनों के लिए खतरा बनकर खड़े यह पेड़

monu sahu | Publish: Mar, 17 2019 06:42:16 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

पुल उतरते ही वाहनों के लिए खतरा बनकर खड़े यह पेड़

ग्वालियर। नए आरओबी से ट्रैफिक शुरू होने से पुराने पड़ाव पुल पर वाहनों का दबाव तो कम हुआ, लेकिन नए पुल से सिंधिया कन्या विद्यालय की तरफ उतरने वाले वाहनों के लिए रास्ता आसान नहीं, बल्कि खतरों भरा है, इसकी वजह सडक़ के बीच में स्थिति दो पुराने पेड़ हैं। इन पेड़ों से पूर्व में भी दुर्घटनाएं होती रही हैं, लेकिन नए आरओबी से तेज गति से उतरने वाले वाहनों के कारण पेड़ से टकराने की घटनाएं बढ़ गई हैं।

 

खासतौर से रात में लोगों को अधिक दिक्कत हो रही है। तीन दिन में कई वाहन चालक इनसे टकरा चुके हैं और कई टकराते-टकराते बचे हैं। सिंधिया कन्या विद्यालय के पास दो नीम के पेड़ हैं। पूर्व में यह सडक़ किनारे पर थे, तीन-चार साल पूर्व सडक़ चौड़ी कर डिवाइडर बनाए जाने पर यह बीच में आ गए, जिससे बीस फीट की सडक़ पेड़ के एक तरफ 10 और दूसरी तरफ सात फीट की रह गई।


टकराने से बचे
पत्रिका टीम ने शाम पांच बजे पड़ाव आरओबी से आने वाले ट्रैफिक को देखा। इस दौरान मोटर साइकिल से जा रहे भाजपा नेता दीपक राय पेड़ से टकराने से बचे। इसी बीच थाटीपुर से आ रहा एक युवक बाइक से तेज गति से आता हुआ पेड़ से टकराते हुए बचा। इन लोगों का कहना था कि नगर निगम इन पेड़ों को हटा दे या शिफ्ट कर दे, नहीं तो अनहोनी हो सकती है।

 

रोज टकरा रहे हैं वाहन चालक
सिंधिया कन्या विद्यालय के पास चाय का ठेला लगाने वाले पूरन सिंह और उनकी पत्नी बताती हैं कि पेड़ तो काफी पुराने हैं, इनसे पहले भी लोग टकराते रहे हैं, लेकिन तीन दिन पहले नए आरओबी के चालू होने के बाद रोजाना रात में दो-तीन वाहन टकरा रहे हैं। कुछ समय पूर्व एक कार चालक इन पेड़ों की वजह से डिवाइडर में घुस गया था। यहां मौजूद अन्य लोगों ने कहा कि पेड़ कट जाएं या दूसरी जगह शिफ्ट कर दिए जाएं तो यातायात आसान हो जाएगा।

 

रास्ता संकरा, लगता है जाम
मोतीमहल रोड पर इन दो पेड़ों की वजह से सडक़ काफी संकरी हो गई है। पड़ाव आरओबी चालू होने पर इस मार्ग पर वाहनों की संख्या में चार गुनी वृद्धि हो गई है, इससे सुबह और शाम को इस रोड पर स्थित एलआइसी कार्यालय के सामने जाम लग जाता है।

 

यातायात कर्मियों को तैनात करेंगे
"आरओबी से ट्रैफिक चालू होने के बाद वाहनों का लोड बढ़ा है। वहां लगे पेड़ों को बचाने के लिए फिलहाल हमारे पास कोई प्लानिंग नहीं हैं। वहां दुर्घटनाएं न हों, इसके लिए हम उन पेड़ों पर रिफलेक्टर लगवा देंगे। यातायात कर्मियों को तैनात करेंगे।"
पंकज पांडेय, एडिशनल एसपी यातायात पुलिस

 

कलेक्टर और निगम आयुक्त से करूंगा चर्चा
"पेड़ों से परेशानी तो हो रही है, इसकी मुझे भी जानकारी है। जब मैं भी वहां से निकलता हूं तो काफी बचकर निकलना पड़ता है। प्रदूषण से बचाने के लिए पेड़ भी जरूरी है। लेकिन यातायात में बाधित हों तो ऐसे पेड़ों को काटने या दूसरी जगह शिफ्ट करने का स्वविवेक से नगर निगम और जिला प्रशासन को निर्णय लेना चाहिए। मैं इस संबंध में कलेक्टर और नगर निगम आयुक्त से चर्चा करूंगा।"
मुन्नालाल गोयल,विधायक

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned