ग्वालियर की पूनम की रेसिपी के दीवाने दुनिया भर में, हजारों लोगों को बना चुकीं किचन मास्टर

पूनम को 27 जून 2020 को यूट्यूब से गोल्ड बटन मिला, फेसबुक पर 8 लाख और इंस्टाग्राम पर 33 हजार फॉलोवर्स

By: Mahesh Gupta

Published: 30 Jan 2021, 11:41 PM IST

यूट्यूब चैनल पर 20 लाख सब्सक्राइबर, किचन में एक्सपेरीमेंट कर इजाद की कई डिश और प्रीमिक्स

ग्वालियर.

सीखने की कोई उम्र नहीं होती। जब भी आपका मन करे आप कुछ नया कर सकते हैं। अपना अलग मुकाम बनाकर लोगों के लिए आइडल बन सकते हैं। यह कहना है देश-विदेश में अपनी रेसिपी के दम पर पहचान बना चुकीं ग्वालियर की किचन मास्टर पूनम देवनानी का, जो अभी तक 50 से अधिक नई डिशेज और प्रीमिक्स इजाद कर चुकी हैं। 57 साल की पूनम का पूरा समय किचन में ही गुजरता है। यही कारण है कि उनके यूट्यूब चैनल 'मसाला किचनÓ के 1.9 मिलियन सब्सक्राइबर हैं, जो उन्होंने 2017 में शुरू किया। वहीं यूट्यूब चैनल 'मां ये कैसे करूंÓ के ढाई लाख सब्सक्राइबर, जिसे उन्होंने 6 माह पहले शुरू किया।

कुकिंग क्लास से 2004 में की शुरुआत
पूनम ने बताया कि कुकिंग का शौक मुझे बचपन से था। 2004 में कुछ पारिवारिक परेशानियां आईं, तब मैंने ऑफलाइन कुकिंग क्लास लेने की शुरुआत की। अच्छा रिस्पांस मिला और पति को सपोर्ट भी। हर दिन किचन में नया एक्सपेरीमेंट करती थी। इसके बाद देशभर के लोगों को कुछ नया सिखाने के लिए मैंने 2017 से यूट्यूब चैनल बनाया, जिससे मुझे दुनिया भर में लोग जानने लगे। मेरी यूट्यूब चैनल पर कनाडा, आस्ट्रेलिया, अमरीका, दुबई आदि से कमेंट हैं, जो मुझे बहुत प्यार देते हैं।

ससुर जी कहते थे अन्नपूर्णा
मैं ससुराल में सबसे छोटी थी। मैं जब खाना बनाकर सभी को खिलाती, तो मेरे ससुर जी मुझे अन्नपूर्णा कहकर पुकारते और प्रेरित करते। उनके इस शब्द ने मुझे आज इस मुकाम तक पहुंचाया।

प्रीमिक्स से तैयार कर सकते हैं 50 से अधिक सब्जियां
चैनल के माध्यम से मैं तरह-तरह की रेसिपी को आसान तरीके से बनाना सिखाती हूं। मैंने कई प्रीमिक्स तैयार किए हैं, जिसे केवल घोलकर कोई भी सब्जी फटाफट तैयार की जा सकती है। हाल ही में मैंने जुगाड़ू पिज्जा बनाया, जो बिना मैदा और आटे का था।

Mahesh Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned