दो दिन बाद होना है मेले का शुभारंभ अब तक एक भी सेक्टर तैयार नहीं

दो दिन बाद होना है मेले का शुभारंभ अब तक एक भी सेक्टर तैयार नहीं

 

By: Gaurav Sen

Published: 30 Dec 2018, 04:55 PM IST

ग्वालियर. एक जनवरी से शुरू होने जा रहे व्यापार मेले में शनिवार तक एक भी सेक्टर तैयार नहीं हो पाया, जबकि मेला प्राधिकरण ने दुकानदारों से हर हाल में 25 दिसंबर तक दुकानें तैयार करने के लिए कहा था। इस दिन तक दुकानें नहीं बनने पर उन्हें एक ओर अल्टीमेटम देते हुए 29 दिसंबर तक दुकानें लगाने को कहा था। फिर भी शनिवार तक 60 फीसदी से अधिक मेला खाली पड़ा था। अब मेला प्राधिकरण का कहना है कि बाहर से आने वाले दुकानदारों के कारण ऐसा हुआ है। इसलिए मेले की शुभारंभ की तारीख को तीन-चार दिन के लिए बढ़ाया जा सकता है।

सिर्फ झूला सेक्टर तैयार
झूला सेक्टर में तैयारियां करीब-करीब पूरी हैं। यहां लगाए गए कुछ झूले तो चालू भी कर दिए गए हैं, हालांकि यहां भी कुछ झूले लगाने का काम अभी चल रहा है। कश्मीरी बाजार, इलेक्ट्रॉनिक, हैंडलूम, लगेज, फूड, मीना बाजार आदि सेक्टर भी आधे-अधूरे दिख रहे हैं। यहां दुकानों और शोरूम में अभी फर्नीचर बनाने के लिए आरी और हथौड़ी चलते हुए दिख रही है। मेले में खान-पान की कुछ दुकानें लग चुकी हैं।

सूना पड़ा है प्रदर्शनी सेक्टर
ग्वालियर व्यापार मेले में प्रतिवर्ष विभिन्न विभागों द्वारा शासकीय योजनाओं पर केंद्रित विकास प्रदर्शनियां लगाई जाती हैं। मेला प्राधिकरण अध्यक्ष बीएम शर्मा ने पूर्व में हुई बैठक में निर्देश दिए थे कि 31 दिसंबर तक सभी विभागों की प्रदर्शनियां आवश्यक रूप से लग जानी चाहिए। फिर भी अभी इस सेक्टर के आधे भाग में खंबे लगाए जा रहे हैं तो आधे भाग में टिन शेड तैयार हुआ है।

सांस्कृतिक कैंलेंडर अभी तक नहीं बना

सैलानियों के आकर्षण के लिए हर साल सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इसके लिए सांस्कृतिक कैलेंडर तैयार किया जाता है। कहने को इस साल सांस्कृतिक कैलेंडर में राष्ट्रीय स्तर के कलाकारों को तवज्जो दी गई है लेकिन अभी तक इसे बनाया नहीं गया है। गत वर्षों में मेला लगने के 10 दिन पूर्व ही इसे तैयार कर लिया जाता था।

मेले में पहुंचने लगे सैलानी
भले ही मेले का शुभारंभ अभी नहीं हो पाया हो लेकिन यहां सैलानियों का आना प्रारंभ हो चुका है। शनिवार को छुट्टी होने के कारण यहां कई सैलानी घूमते दिखाई दिए। हालांकि अभी दुकानें और शोरूम नहीं लगने के कारण सैलानियों ने झूला सेक्टर के साथ खान-पान का लुत्फ उठाया। रविवार को भी मेले में सैलानियों की भीड़ देखने को मिल सकती है।


परिवहन मंत्री बोले- रोड टैक्स में छूट के लिए सीएम से करेंगे बात
मप्र में नई सरकार बदलने के साथ ही व्यापार मेले में रोड टैक्स में मिलने वाली छूट की उम्मीदें फिर से जाग गई हैं। ऑटोमोबाइल कारोबारियों ने भी कहा है कि यदि मेले में टैक्स में छूट मिलती है तो वे यहां शोरूम जरूर लगाएंगे। इसके चलते पत्रिका ने नव नियुक्त परिवहन मंत्री गोविंद सिंह राजपूत से शनिवार को चर्चा की तो उनका कहना था चूंकि ये मामला ग्वालियर शहर के साथ-साथ प्रदेशभर का है, इस छूट के चलते यहां प्रदेशभर के लोग गाडिय़ां खरीदने के लिए आते हैं। परिवहन विभाग का प्रभार मुझे अभी मिला ही है, इस मुद्दे को लेकर मुख्यमंत्री कमलनाथ और सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया से चर्चा करूंगा। रोड टैक्स में छूट मिल सके इसके लिए हम पूरा प्रयास करेंगे। यहां बता दें कि कुछ दिन पूर्व ही सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने स्वयं सीएम को पत्र लिखकर मांग की थी कि व्यापार मेले के ऑटोमोबाइल्स सेक्टर मे बिकने वाले वाहनों पर रोड टैक्स में 50 फीसदी प्रतिशत की छूट प्रदान की जाए।

तो आमजन को फायदा
यदि परिवहन विभाग की ओर से मेले में वाहन खरीदने पर रोड टैक्स में 50 प्रतिशत की छूट प्रदान की जाती है तो नई मोटर साइकिल खरीदने पर करीब 2100 रुपए और कार की खरीदी पर लगभग 25 हजार रुपए की बचत होगी।

लगने लगी लाइट, पार्क और गेट सजे
व्यापार मेले में अभी तक लाइट लगाने का काम शुरू नहीं हो सका था। पत्रिका ने प्रमुखता से 29 दिसंबर के अंक में ‘एक जनवरी को होना है मेले का शुभारंभ, अभी तक नहीं लगी लाइटें’ खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद मेले में शनिवार को आनन-फानन में लाइट और झालरें लगाने का काम शुरू कर दिया गया। रात में मेले के गेट और गार्डन में झालर जगमगा रही थी।

Gaurav Sen
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned