खुशी की जिंदगी में आई ‘खुशी’ सब ने एक साथ उठाए हाठ होगा सपना पूरा

खुशी की जिंदगी में आई ‘खुशी’ सब ने एक साथ उठाए हाठ होगा सपना पूरा

Rizwan Khan | Publish: Mar, 17 2019 06:54:32 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

बेटी को अफसर बनाने का सपना देख रहे लाखन सिंह कुशवाह की राह अब आसान हो गई है। उनकी बेटी के एडमिशन की राह खुल गई है। प्रशासन ने मामले को संज्ञान में लेते हुए बच्ची...

ग्वालियर. बेटी को अफसर बनाने का सपना देख रहे लाखन सिंह कुशवाह की राह अब आसान हो गई है। उनकी बेटी के एडमिशन की राह खुल गई है। प्रशासन ने मामले को संज्ञान में लेते हुए बच्ची का एडमिशन कराने की बात कही है। इसके लिए 20 को संबंधित स्कूल में टेस्ट होगा और उसकी योग्यता के अनुसार उसे प्रवेश दिया जाएगा।
बालाजी धाम निवासी लाखन सिंह कुशवाह की बेटी जन्म से ही गूंगी बहरी थी उसके इलाज के बाद वे बेटी का बेहतर भविष्य बनाना चाहते हैं लेकिन स्कूल में प्रवेश नहीं मिल पा रहा था। पत्रिका ने 12 मार्च के अंक में बेटी को अफसर बनाने का सपना, नहीं मिल रहा एडमिशन शीर्षक से खबर को प्रमुखता से प्रकाशित किया था। इसके बाद प्रशासन हरकत में आया। कलेक्टर ने डिप्टी कलेक्टर संजीव खेमरिया और जिला शिक्षा केन्द्र प्रभारी को खुशी का एडमिशन करने के निर्देश दिए थे। जिसके आधार पर ही एडमिशन की प्रोसेस शुरू हो गई।

रेडक्रॉस देगा फीस
खुशी के पिता लाखन सिंह कुशवाह सब्जी का ठेला लगाते हैं इसे देखते हुए कलक्टर अनुराग चौधरी ने खुशी के एडमिशन के लिए विद्यालय की फीस रेडक्रॉस से देने की बात कही है।

हेमा कॉन्वेंट में बच्ची का प्रवेश हो गया था लेकिन पिता जिस स्कूल में प्रवेश के लिए कहा है वहां टेस्ट के आधार पर एडमिशन होगा। बच्ची की पूरे साल की फीस शासन द्वारा दी जाएगी।
अनुराग चौधरी, कलक्टर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned