ग्वालियर में खोल दी गोडसे ज्ञान शाला, यहां बच्चों को पढ़ाएंगे अब जीवन चरित्र

हिन्दू महासभा ने डंका पीटकर किया उद्घाटन, गोडसे के चित्र की आरती उतारी, प्रशासन मौन

By: Nitin Tripathi

Updated: 12 Jan 2021, 01:25 AM IST

ग्वालियर . आखिरकार हिन्दू महासभा ने नाथूराम गोडसे की स्मृति में गोडसे ज्ञान शाला खोल दी है। महासभा का कहना है, यहां बच्चों को गोडसे का जीवन चरित्र पढ़ाया जाएगा, साथ ही भारत विभाजन का सच भी बताया जाएगा।

महासभा ने सोमवार को ज्ञान शाला में हिंदू समाज के लिऐ सुन्दररकांड के साथ सामाजिक समरसता किया। इसमें महासभा के प्रदेश उपाध्यक्ष पंडित शिवकुमार भार्गव मुख्य अतिथि के तौर पर भोपाल से आए। उन्होंने कहा,और शहीद क्रांतिकारियों, बलिदानियों का जीवन चरित्र पढ़ाने का कार्य उत्साहजनक है। इस दौरान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पंडित कैलाश नारयण शर्मा, राष्ट्रीश् उपाध्यक्ष डॉक्टर जयवीर भारद्वाज, प्रदेश महामंत्री विनोद जोशी, संगठन मंत्री लालजी शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष रामबाबू सेन सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे।

गोडसे के चित्र की उतारी आरती
हिन्दू महासभा भवन में सुंदरकांड में भगवान के चित्रों के साथ गोडसे का चित्र रखकर सभी की आरती उतारी गई। 14 जनवरी को मकर संक्रांति के अवसर पर गोडसे ज्ञान शाला में गरीबों को वस्त्र दान करने का कार्यक्रम होगा।

प्रशासन की ओर से कार्रवाई नहीं
गोडसे मामले को लेकर प्रशासन भी अलर्ट और इस मामले को कलेक्टर ने भी जानकारी ली। ऐसी उम्मीद की प्रशासन कार्रवाई करेगा, लेकिन देर शाम तक प्रशासन की ओर से कोइ भी कार्रवाई नहीं की गई। इस संबंध में प्रदेश के गृहमंत्री को भी जानकारी दी गई।

पहले गोडसे की मूर्ति हो चुकी जब्त
गोडसे मामले में प्रशासन पूर्व में हिन्दू महासभा पर कार्रवाई कर चुका है और यहां स्थापित होने वाली गोडसे की मूर्ति को जब्त की जा चुकी है। यह मूर्ति अभी तक प्रशासन के पास है और हिन्दू महासभा लगातार पत्र लिखकर उसको वापस करने की मांग कर चुका है। हाल में मूर्ति वापस नहीं किए जाने पर नई मूर्ति स्थापित करने की घोषणा की। महासभा की ओर से बताया गया कि मूर्ति ग्वालियर आ चुकी है। मंदिर का काम पूरा होने पर इसे यहां लगाया जाएगा।

Show More
Nitin Tripathi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned