गिरकर उठना सिखाती है घुड़सवारी, बीएसएफ बना ऑवरऑल चैंपियन

 गिरकर उठना सिखाती है घुड़सवारी, बीएसएफ बना ऑवरऑल चैंपियन

घुड़सवारी वह विद्या है, जिसमें कई बार गिरना भी पड़ता है, फिर उठकर चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। इससे अनुशासन भी मिलता है।

ग्वालियर। घुड़सवारी वह विद्या है, जिसमें कई बार गिरना भी पड़ता है, फिर उठकर चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। इससे अनुशासन भी मिलता है।

जो मैंने यहां से सीखा है। बीएसएफ की टीम अभी मजबूत बनकर उभरी है, एक समय था जब इन प्रतियोगिताओं में हरियाणा और दिल्ली का दबदबा कायम था, लेकिन उनके बीच भी बेहतर प्रदर्शन करके बीएसएफ की टीम आज आेवर ऑल चैंपियन बनी है।

t2




















यह बात बीएसएफ अकादमी में चल रही घुड़सवारी प्रतियोगिता में प्रदेश की कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे ने कही। उन्होंने कहा कि वो दिन याद आ रहे हैं, जब मेरे गुरु केएस राठौर ने मुझे यहां सिखाया था। उन्होंने कहा कि महाराज और बीएसएफ ने मुझे जो सिखाया, उसी का परिणाम है कि मैं आज इस मुकाम पर पहुंची हूं।

यशोधरा राजे ने पुरानी यादें ताजा करते हुए कहा कि जब मैं कॉलेज में थी, तब मुझे यहां आने का मौका मिला था, उस समय महाराज का जलवा पूरे देश में था। इसके बाद मैंने उनसे कहा था मैं सिंधिया न होकर एक बेहतर घुड़सवार बनना चाहती हूं और कुछ समय सीखने के बाद मुझे प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने का मौका भी मिला।

t3




















बीएसएफ अकादमी टेकनपुर में जारी 34 वीं अखिल भारतीय पुलिस घुड़सवारी प्रतियोगिता और पुलिस ड्यूटी मीट-2015 का बुधवार को समापन हुआ। प्रतियोगिता में 18 टीमों ने हिस्सा लिया। इनमें बीएसएफ, आईटीबीपी, असम रायफल, मध्यप्रदेश पुलिस, बिहार पुलिस, दिल्ली, हरियाणा, गुजरात, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, उत्तरप्रदेश सहित अन्य राज्यों की पुलिस टीमों ने हिस्सा लिया।

इस दौरान घुड़सवारों ने कई करतब दिखाए। इस दौरान केबिनेट मंत्री के अलावा अकादमी के एडीजी एसएस तोमर, इंडिया स्पोर्टस कंट्रोल बोर्ड के सचिव पीके भारद्वाज, रिटायर्ड आईपीएस डॉ. एस कृष्णमूर्ति, बीके डे, एस. रामकृष्णन सहित बोर्डर सिक्योरिटी फोर्स के अधिकारी और आम जन मौजूद थे। प्रतियोगिता के दौरान जंपिंग करते समय एक घुड़सवार का संतुलन बिगड़ गया और सवार और घोड़ा दोनों गिर गए, हालांकि किसी को चोट नहीं आई और थोड़ी ही देर में दोबारा से प्रतियोगिता शुरू हो गई।

t1




















यह बने चैंपियन, टैंट पैगिंग प्रतियोगिता
हरियाणा पुलिस-टीम ए को 137 पॉइंट मिले और टीम ने पहला स्थान प्राप्त किया।
आईटीबीपी की टीम ने 134 पॉइंट प्राप्त किए और दूसरा स्थान मिला।
तीसरे स्थान पर बीएसएफ ए टीम ने 123 अंक के साथ कब्जा किया।
चौथे स्थान पर दिल्ली पुलिस की टीम रही, टीम को 117 अंक मिले।

शो जंपिंग
दिल्ली पुलिस के हैड कांस्टेबल राधेश्याम और उनके घोड़े आकाश ने 1.60 मीटर जंप करके पहला स्थान हासिल किया।

नेशनल पुलिस अकादमी के हैडकांस्टेबल गजेन्द्र सिंह और उनके घोड़े आकाश ने दो बाधाएं पार कीं, लेकिन अंतिम बाधा को सफलता से पार नहीं कर सके, उन्हें दूसरा स्थान मिला।
बीएसएफ के इंस्पेक्टर सुमेर सिंह को उनकी घोड़ी सलोनी और घोड़े शिवा के साथ ट्राफी जीती।

विशेष पुरस्कार पर इनका कब्जा
ओवर ऑल टीम चैंपियन बीएसएफ को छत्रपति शिवाजी ट्राफी दी गई।
नेशनल पुलिस अकादमी को रनर अप के रूप में हैदराबाद ट्रॉफी दी गई।
बेस्ट हॉर्स के रूप में सलोनी को चेतक ट्राफी दी गई।
ओवर ऑल राइडर चैंपियन के लिए इंस्पेक्टर सुमेर सिंह को मेवाड़ चैलेंज ट्रॉफी मिली।
माउंटेन पुलिस ड्यूटी मीट चैंपियन शिप के लिए बीएसएफ को दोरजी मेमोरियल ट्रॉफी प्रदान की गई।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned