फॉरेस्ट लैंड पौधारोपण : 22 हजार कर्मचारी लगाएंगे पौधे, वन विभाग तैयार करेगा 55 हैक्टेयर में वन

फॉरेस्ट लैंड पौधारोपण : 22 हजार कर्मचारी लगाएंगे पौधे, वन विभाग तैयार करेगा 55 हैक्टेयर में वन

Gaurav Sen | Updated: 04 Jun 2019, 02:22:45 PM (IST) Gwalior, Gwalior, Madhya Pradesh, India

कैंसर पहाड़ी की फॉरेस्ट लैंड पर रोपे जाएंगे 38 हजार पौधे.......

ग्वालियर. कोषालय से जिन 22 हजार कर्मचारियों का वेतन निकलता है, उन सभी का डेटा इक_ा किया गया है। अब यह अपनी पदस्थी वाली जगह के आसपास जहां भी बंजर पहाड़ी होगी, वहां प्रत्येक कर्मचारी कम से कम 1 पौधा लगाएंगे। जबकि पांच हजार पांच सौ शिक्षक भी एक-एक पौधा लगाएंगे। इसके अलावा वन विभाग द्वारा कैंसर पहाड़ी से लगी वन विभाग की हद में स्थित जिंसी पहाड़ी की 55 हैक्टेयर जमीन पर 38 हजार पौधे रोपेंगे। पौधे रोपने के बाद देखभाल भी वन विभाग ही करेगा। इसी तरह शासकीय कर्मचारी भी जो पौधा लगाएंगे, उसकी देखभाल करेंगे ताकि पौधे के साथ रोपने वाले कर्मी का भावनात्मक लगाव भी बढ़े। खास बात यह है कि रोपने के लिए कम से कम तीन फुट ऊंचाई वाले पौधों का ही चयन किया जाएगा। राजस्व भूमि पर पौधे लगाने के लिए कलेक्टर अनुराग चौधरी ने सभी एसडीएम को खुली भूमि और पहाडिय़ों का चिन्हांकन करने के लिए कहा है।

पहल को दिया ग्रीन ग्वालियर का नाम

  • बारिश से पहले और बाद में किए जाने वाले पौधारोपण की पहल को ग्रीन ग्वालियर का नाम दिया गया है।
  • सभी शासकीय विभाग इस पहल में अपनी भूमिका अदा करेंगे।
  • पेड़ों की संख्या कम होने के कारण पर्यावरण पर असर पड़ रहा है, अब संरक्षण के लिए कदम उठाने की पहल होगी।
  • आम जन की भागीदारी को विशष महत्व देकर इस पहल को साकार करने का प्लान है।

यह भी पढ़ें : कलेक्टर अनुराग चौधरी की पहल, बंदूक का लाइसेंस लेना है तो लगाने पड़ेंगे 10 पौधे

सभी विभागों ने बनाया अपना-अपना प्रजेंटेशन

  • सोामवार को ग्रीन टीएल के नाम से हुई बैठक में वन विभाग सहित अन्य विभागों ने अपना-अपना प्रजेंटेशन प्रस्तुत किया। इस दौरान विभाग प्रजेंटेशन बनाकर नहीं लाए थे, उनको पूरी तैयारी करने के निर्देश दिए गए हैं।
  • प्रजेंटेशन में पौधारोपण के लिए चिन्हित स्थान सहित अन्य जानकारी दी गई थी।
  • अब आने वाले सोमवार तक कौनसा विभाग कितने पौधे लगाने के लिए गड्ढे तैयार करेगा यह रिपोर्ट ली जाएगी।
  • इसके बाद अगले सप्ताह से चिन्हित स्थानों पर गड्ढे खोदने के साथ-साथ पौधे रोपने के लिए मिट्टी, खाद और दवा डालकर खाली छोड़ा जाएगा।
  • जुलाई में पहली बारिश के साथ ही तैयार गड्ढों में पौधे रोपने का काम शुरू किया जाएगा।
  • नगर निगम को निर्देश दिए गए हैं कि किसी क्षेत्र में अनिवार्य होने पर अगर पेड़ काटने की अनुमति दी जाती है तो उसके बदले में निर्माण एजेंसी से पौधे लगवाए जाएं।
  • शस्त्र लाइसेंस के आवेदक, क्रैशर संचालक और खनन करने वालों को भी पौधे लगाने का निर्देश दिया गया है।
  • बिजली कंपनी एक लाख से अधिक बकायादारों से बिल जमा करानेे के साथ-साथ एक पौधा लगाने के लिए कहेगा।

दो को मिला नोटिस
हरियाली पर फोकस रखने के लिए हुई महत्वपूर्ण बैठक में बगैर सूचना दिए बैठक से गायब सहायक आयुक्त को नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा सहकारिता विभाग के उपायुक्त और सहायक आयुक्त को भी नोटिस जारी किए गए हैं। ग्रीन टीएल बैठक में कलेक्टर के अलावा अपर कलेक्टर अनूप कुमार सिंह, जिपं सीईओ शिवम वर्मा, एडीएम संदीप केरकेट्टा, रिंकेश वैश्य, स्मार्ट सिटी सीईओ महीप तेजस्वी सहित सभी एसडीएम और अन्य अधिकारी मौजूद थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned